अयोध्‍या में नागा साधु की ईंट से कूचकर निर्मम हत्‍या, मौके पर भारी पुलिस फोर्स

अयोध्या: रामनगरी अयोध्‍या से एक सनसनीखेज खबर सामने आई है। रविवार को यहां एक नागा साधु की ईंट से कूचकर निर्मम हत्‍या कर दी गई।

अयोध्‍या में आज नागा साधु कन्‍हैयादास की ईंट से कूचकर हत्या कर दी गई, जिनका शव मंदिर से जुड़ी गोशाला में पाया गया। मृतक साधु के गुरु भाई रामानुजदास की तरफ से तहरीर पुलिस को दी गई है, जिसमें मकान व जमीनी विवाद को लेकर गोशाला के एक अन्य साधुवेशधारी पर आरोप लगाया है।

मौके पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारी

इस हत्‍याकांड की सूचना मिलते ही वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश पांडेय, एसपी सिटी, क्षेत्राधिकारी, कोतवाल व फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। वहीं, विवाद होने की आशंका के चलते घटनास्थल पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, 45 वर्षीय मृतक नागा साधु कन्हैयादास हनुमानगढ़ी के बसंतिया पट्टी से जुड़े गुलचमन बाग के संत थे। पुलिस को उनके सिर में गंभीर चोट के निशान मिले हैं। मृतक साधु के गुरु भाई रामानुजदास के अनुसार, कन्हैयादास रात्रि विश्राम के लिए चरण पादुका गोशाला जाते थे और शनिवार को भी वह नित्‍य की तरह गोशाला गए थे।

एक शख्‍स को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी  

उन्‍होंने आरोप लगाया कि, कन्हैयादास का गोशाला में ही रहने वाले शशिकांत दास मकान व जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इस रंजिश के चलते उसी ने साधु की हत्या की है। उनकी तहरीर के आधार पर पुलिस ने शशिकांत दास को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि शशिकांत दास भी गुलचमन बाग का निवासी है। इस घटना के बारे में कोतवाल अयोध्या अशोक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि, शशिकांत दास के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया गया है। विवाद गुलचमन बाग की जमीन का ही है। इस मामले में और गहराई से छानबीन की जा रही है।

योगी सरकार ने रचा नया कीर्तिमान, 51.21 लाख गरीब बुजुर्गों को बांट दी पेंशन

Previous article

फिर से धधक उठे हैं उत्तराखंड के जंगल, सीएम तीरथ ने शाह से किया अनुरोध

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured