January 25, 2022 11:08 am
featured यूपी

मुजफ्फरनगर की महिला पहलवान ने विश्वपटल पर किया नाम रोशन

मुजफ्फरनगर की महिला पहलवान ने विश्वपटल पर किया नाम रोशन

लखनऊ: प्रतिभा सफलता की सीढ़ियों तक जरूर पहुंचा देती है। ऐसा ही कुछ मुजफ्फरनगर में देखने को मिला। जहां 72 किलोग्राम वर्ग में जिले की महिला पहलवान ने बाजी मारी।

हासिल किया दूसरा स्थान

उन्होंने विश्व में दूसरा स्थान प्राप्त किया। बता दें कि इन दिनों कजाकिस्तान में सीनियर एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता के बाद नई रैंकिंग जारी हुई। यूनाइटेड वर्ल्ड रैसलिंग ने कुश्ती में अलग-अलग वर्गों के लिए यह रैंकिंग जारी की है। इसमें मुजफ्फरनगर की महिला पहलवान दिव्या काकरान को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है। उन्होंने यह सफलता कुश्ती में अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन से हासिल की।

मंसूरपुर थाना क्षेत्र के रहने वाली हैं दिव्या काकरान

मुजफ्फरनगर जिले में इस खबर के मिलने से जश्न का माहौल हो गया है। दिव्या काकरान के गांव पुरबालियान में लोगों ने खुशी जताई। यह क्षेत्र मंसूरपुर थाना के अंतर्गत आता है। दिव्या काकरान ने इसके पहले भी अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है। उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीता। उनके नाम 70 से अधिक मेडल हैं। शुरू से ही कुश्ती की तरफ उनका रुझान था और लगातार इस क्षेत्र में वह बेहतर प्रदर्शन करती गई।

शाहदरा में टिकट कलेक्टर है दिव्या

कजाकिस्तान में हुई सीनियर वर्ग की एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता में दिव्या काकरान ने बेहतर प्रदर्शन किया। उन्होंने इस प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता। इसी के बाद विश्व रैंकिंग जारी की गई, जिसमें उन्होंने 72 किलोग्राम वर्ग में दूसरा स्थान हासिल किया है। मुजफ्फरनगर की इस बेटी पर पूरे देश को गर्व है। वह दिल्ली के शाहदरा रेलवे स्टेशन पर टिकट कलेक्टर का काम करती हैं। कांस्य पदक जीतने के बाद उन्हें यह नौकरी दी गई थी। इसके अलावा उत्तर प्रदेश सरकार भी उन्हें पेंशन देती है। पीडब्ल्यूडी विभाग अब उनके नाम से गांव तक सड़क बनाने की भी योजना बना रहा है।

Related posts

काबूल में ताजा धमाके महज ट्रेलर हैं, डिफेंस एक्सपर्ट ने भारत को लेकर कही ये बात

Rani Naqvi

लखनऊ विश्वविद्यालय ने बीएड के पाठ्यक्रम की परीक्षा प्रणाली को बदला, अब इस तरह होगी परीक्षा!

Shailendra Singh

कल के मुकाबले आज रिपोर्ट किये गए कोरोना के ज्यादा केस, ये हैं आंकड़ा

Shagun Kochhar