January 18, 2022 12:59 pm
Breaking News यूपी

मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन कुर्क

mukhtar ansari21 6755570 835x547 m मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन कुर्क

मऊ। बहुजन समाज पार्टी के मऊ सदर से विधायक और जेल में बंद मुख्तार अंसारी पर मऊ पुलिस ने एक और बड़ी कार्रवाई की है। बुधवार को मऊ में मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन को पुलिस ने जब्त कर लिया है। आरोप है कि मुख्तार अंसारी ने अपने बाहुबल के दम पर इस जमीन को कब्जे में ले रखा था।

मऊ के थाना दक्षिण टोला की पुलिस ने कार्रवाई करने के लिए बुधवार की सुबह ही कार्रवाई के लिए दूसरे थानों की पुलिस की टुकड़ी बुला ली गई थी। पूरे क्षेत्र को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। किसी भी आशंका को देखते हुए दूसरे थानों को भी अलर्ट कर दिया गया था।

IMG 20210609 WA0010 मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन कुर्क

 

पूरी व्यवस्था के बाद पुलिस थाना दक्षिण टोला के अंतर्गत दसई पोखरा के पास करीब सात बीघे की जमीन है। आरोप है कि इस जमीन को मुख्तार अंसारी ने दबंगई से कब्जा कर लिया था। जिस पर मुकदमा भी दायर है। यहां पर एक धार्मिक स्थल भी है। इस धार्मिक स्थल को छोड़कर पूरी जमीन को पुलिस ने कुर्क कर लिया है।

गैंगस्टर एक्ट में हुई कार्रवाई

पुलिस ने यह कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट के तहत की है। जमीन के साथ ही इस पर बन रहे मकान को भी पुलिस ने जब्त कर लिया है। ऐसा माना जा रहा है। पुलिस अभी आगे और भी कार्रवाई कर सकती है।

IMG 20210609 WA0009 मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन कुर्क

लगाया नोटिस बोर्ड

मऊ पुलिस ने कुर्क की हुई जमीन पर नोटिस बोर्ड भी लगा दिया है। न्यायालय जिलाधिकारी मऊ के आदेश के बाद की गई कार्रवाई के बाद इस जमीन पर अब कोई दूसरा काम नहीं हो सकेगा। धार्मिक स्थल पर जाने के लिए लोगों को छूट रहेगी।

IMG 20210609 WA0011 मुख्तार अंसारी की करोड़ों की जमीन कुर्क

डिग्री कॉलेज बनाने की थी तैयारी

स्थानीय निवासियों ने बताया कि कुर्क की गई जमीन पर मुख्तार अंसारी डिग्री कॉलेज बनवाने की तैयारी कर रहे थे। इसकी तैयारी भी शुरू हो गई थी। जमीन पर कुछ निर्माण भी शुरू करा दिए गए थे।

Related posts

अरुणाचल में शहीद मेजर पंकज पांडेय को सीएम योगी की श्रद्धांजलि, किया बड़ा ऐलान

Shailendra Singh

जितेंद्र मामले में राजनीति तेज, राज बोले पहले हो वर्दी वाले गुंडों का एनकाउंटर

Breaking News

राजनाथ: सभी कश्मीरी नागरिक नहीं हैं आतंकवादी

Srishti vishwakarma