लखनऊ में बढ़ा बाजार बंदी का दायरा, 100 से अधिक दुकानों पर ताला

लखनऊ: फैजाबाद रोड, गोमती नगर, नरही, गौरी, विधानसभा मार्ग, हुसैनगंज, हुसैनाबाद, गन मार्केट लाटूश रोड, आम्रपाली मार्केट इंदिरा नगर, रहीम नगर बाजार, खुर्रम नगर बाजार, सर्वोदय नगर बाजार, तेलीबाग, रिंग रोड, शिवाजी मार्ग, एलडीए कानपुर रोड, तिवारीगंज, मटियारी, चिनहट, बीबीडी गोयल मार्केट, मुंशी पुलिया चौराहा, अमीनाबाद बुक मार्केट, गुईन रोड, नजीराबाद, नाजा मार्केट, हलवासिया मार्केट, प्रिंस कॉम्‍प्‍लेक्‍स, लवलेन मार्केट, भोपाल हाउस सहित 100 से अधिक बाजारें शुक्रवार को बंद रहीं।

उत्‍तर प्रदेश आदर्श व्‍यापार मंडल के आह्वान पर व्‍यापारियों ने कोविड-19 संक्रमण की चेन तोड़ने के उद्देश्य से राजधानी के अधिकतर बाजारों को बंद किया है। उन्‍होंने स्वयं को, अपने परिवार को, अपने कर्मचारियों व उनके परिजनों को और शरहवासियों को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से अपनी दुकानें बंद रखने का निर्णय लिया, जिसका असर आज साफ दिखाई दिया।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को दिया धन्‍यवाद

वहीं, व्यापार मंडल अध्‍यक्ष संजय गुप्ता ने केंद्रीय रक्षा मंत्री व लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह को लखनऊ में DRDO द्वारा 600 बेड की क्षमता वाले अस्पताल की तैयारी और उसके लिए रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के विशेष प्रयास के लिए धन्यवाद दिया है। गौरतलब है कि संजय गुप्ता ने गुरुवार शाम को ही राजनाथ सिंह से बात करके निवेदन करते हुए लखनऊ में सेना को लगाने का सुझाव दिया था।

व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय गुप्ता ने बताया कि, राजधानी में व्यापारियों ने अभूतपूर्व कदम उठाते हुए स्वेच्छा से शुक्रवार को बाजार बंद का दायरा बड़ा किया और 100 से अधिक नई बाजारें भी इसमें शामिल हुईं। उन्‍होंने कहा कि, निश्चित रूप से व्यापारियों के इस प्रयास से संक्रमण के फैलाव में कुछ कमी आएगी। व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने फिर से लखनऊ के व्यापारियों से 20 अप्रैल तक दुकानों को इसी प्रकार बंद रखने की अपील की है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि, यह तिथियां आवश्यकतानुसार बदली भी जा सकती हैं।

उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य के गृहनगर सिराथू में बड़ा हादसा, ट्वीट कर दी जानकारी

Previous article

खेलों के विकास के लिए उत्तराखण्ड को हरसंभव मदद दी जाएगी- किरेन रिजिजू

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured