Untitled 1 लोहिया संस्थान से मृत कोरोना मरीज का मोबाइल, रुपए चोरी

लखनऊ। राजधानी के लोगों पर कोरोना का कहर जारी है। लोग कोरोना से पीड़ित अपने परिवारीजन को बचाने की जद्दोजहद में दिन-रात एक किए हैं। इसी बीच लोहिया संस्थान से एक शर्मनाक खबर सामने आई है। कोरोना से मृत मरीज का मोबाइल व रुपए चोरी कर लिए गए। इस बात की लिखित शिकायत पीड़ित ने लोहिया संस्थान प्रशासन से की है। शिकायत मिलने के बाद संस्थान प्रशासन ने पीड़ित से कुछ दिन की मोहलत मांगते हुए आश्वस्त किया है कि मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी।

ये है मामला

राजधानी के गोमती नगर में डाॅक्टर राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के शहीद पथ रोड स्थित राम प्रकाश गुप्त शिशु एवं मातृ रेफरल चिकित्सालय (कोविड अस्पताल) का है। गोसाईंगंज नगर पंचायत के अध्यक्ष व भाजपा नेता निखिल मिश्रा हैं। निखिल के मुताबिक उनके बहनोई प्रशांत द्विवेदी को कोरोना होने पर 14 अप्रैल को एचडीयू 2 में बेड 82 पर भर्ती किया गया। हालत नाजुक होने पर 24 अप्रैल को वहीं आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया। प्रशांत की इलाज के दौरान 26 अप्रैल की सुबह मौत हो गई।

भाजपा नेता गोसाईंगंज नगर पंचायत अध्यक्ष ने संस्थान प्रशासन से की शिकायत

निखिल का आरोप है कि जब वह संस्थान में बहन राधा द्विवेदी के साथ बहनोई का शव लेने पहुंचा तो सामान भी दिया गया। जिसमें मौके पर ही देखा गया कि उनका वीवो कंपनी का मोबाइल और 17 हजार रुपए गायब थे, जबकि भर्ती के समय यह सब उनकी जेब में था। इसकी शिकायत निखिल ने लिखित संस्थान प्रशासन से की है। निखिल का कहना है कि रुपए चोरी होने की बात तो अलग है, लेकिन यदि उनके मृत बहनोई का यदि मोबाइल नहीं मिला तो वह एफआईआर कराएंगे।

संस्थान प्रशासन ने मांगी शिकायतकर्ता से मोहलत

इस मामले में लोहिया संस्थान के प्रवक्ता श्रीकेश सिंह का कहना है कि इधर कोरोना की वजह से काम ज्यादा है। पीड़ित परिवारीजनों से समय मांगा गया है। सीसीटीवी को दिखवाकर जांच कराई जाएगी। आरोपी मिलने पर कार्रवाई भी की जाएगी।

मंत्री ने नए वार्ड के निर्माण कार्य का जायजा लिया

Previous article

गोमती नगर के निजी अस्पताल में पांच मरीजों की मौत

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.