September 20, 2021 11:42 pm
featured यूपी

बिछड़ने के गम में गई पिता की जान, तीन माह बाद फतेहपुर में मिला बेटा

बिछड़ने के गम में गई पिता की जान, तीन माह बाद फतेहपुर में मिला बेटा

फतेहपुर: जिस पिता ने अपने पुत्र वियोग में दम तोड़ दिया, उसका बेटा तीन महीने बाद फतेहपुर से बरामद हुआ। बुधवार को फतेहपुर पुलिस ने बलिया जिले के रहने वाले परिजनों को उनके लापता हुए बेटे को सौंपा। परिजनों को उनके लापता बेटे से मिलवाने में कॉन्‍स्‍टेबल सतीश यादव की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रही। सतीश भी लापता हुए युवक के जिले से हैं।

जिले की खागा पुलिस को उकाथू गांव में एक संदिग्ध व्यक्ति के घूमने की सूचना मिली। इस पर इंस्पेक्टर संतोष शर्मा ने मौके पर दो कॉन्स्टेबल को भेजा। जाने पर पता चला कि संदिग्ध व्यक्ति मंदबुद्धि का है। हालांकि, वह अपना नाम और पता बताने की स्थिति में है। पूछताछ करने पर इस युवक ने अपना नाम व पता मौके गोविंद पुत्र ओम प्रकाश निवासी गोविंदपुर थाना भीमपुरा जिला बलिया बताया।

आरक्षी सतीश यादव ने ढूंढ लिया परिवार

मौके पर गए कॉन्स्टेबल सतीश यादव भी भीमपुरा थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। बस फिर क्या था आरक्षी को युवक के परिजनों की तलाश करने की जिम्मेदारी सौंपी गई, जिसपर सतीश ने अपने जानने वालों के माध्यम से गोविंद के परिजनों को खोज निकाला। गोविंद के परिजनों में उनके चाचा बब्बन को खागा आने के लिए कहा गया। जिसपर वह और गोविंद के छोटे भाई अरविंद, उनके बुआ के पुत्र आशीष बुधवार को आ गए। इसके बाद एक-दूसरे की पहचान कराते हुए उन्हें गोविंद को सौंप दिया गया।

इस दौरान बब्बन ने बताया कि, उनका भतीजा गोविंद मंदबुद्धि का है। उसका गोरखपुर में उपचार चल रहा है। इसी बीच गोविंद अपने गांव से लापता हो गया। मामले की जानकारी होने पर उनके पिता ओम प्रकाश को काफी सदमा लगा, जिसे वह बर्दाश्त नहीं कर पाए और करीब 15 दिन पहले उन्होंने दम तोड़ दिया। हालांकि, अब उनका भतीजा मिल गया है और इससे न केवल उनके परिवार को राहत मिली है बल्कि गोविंद की मां को भी अपने गुमशुदा हुए बेटे के मिल जाने की खुशी है।

आरक्षी सतीश को सभी ने दिया धन्‍यवाद 

उन्‍होंने कहा, एक मां को अपना बेटा मिल जाने की खुशी में उनका दुख भी कम हो जाएगा। परिजनों ने फतेहपुर पुलिस के इस काम की खूब प्रशंसा की। बुधवार को दोपहर बाद गोविंद अपने परिजनों के साथ बलिया जिले के लिए रवाना हो गया। इंस्पेक्टर संतोष शर्मा ने बताया कि, मामले के खुलासे में आरक्षी सतीश यादव की महत्वपूर्ण भूमिका रही। सभी ने सतीश को धन्यवाद दिया।

Related posts

अगस्ता वेस्लैंड मामले में रमन सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने दी राहत

Vijay Shrer

मदरसे में छापा मारकर पुलिस ने 51 छात्राओं को छुड़ाया

Vijay Shrer

केंद्रीय सशस्त्र बल के रुप में स्थापित हो चुका है CISF : रिजीजू

shipra saxena