Breaking News

मिर्जापुर नगरपालिका को मिला सर्वश्रेष्ठ का पुरस्कार, जानें लखनऊ में कितनी कीमत में तैयार हो रहा लाइट हाउस प्रोजेक्ट

लखनऊ। सरकार द्वारा देश जनता को आगे बढ़ाने के लिए अथक प्रयास किए जा रहे है। देश की उन्नति तभी संभव है जब वहां रहने वाले लोग पूर्ण रूप से संपन्न होंगे। मोदी सरकार द्वारा लोगों को सीधे लाभ पहुंचाने वाली कई योजनाएं चलाई गई हैं। इसी बीच आज पीएम मोदी ने लाइट हाउस प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। इस प्रोजेक्ट के तहत देश के 6 राज्यों को सम्मलित किया गया है। इसी बीच आज सीएम योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री शहरी आवास योजनान्तर्गत राजधानी लखनऊ के अवध विहार योजना में शहरी गरीबों के लिए ‘लाइट हाउस प्रोजेक्ट’ के शिलान्यास कार्यक्रम में उपस्थित थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश के हर जरूरतमंद परिवार का ‘अपना घर’ का सपना साकार करने के लिए सतत प्रयासरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अब तक 17 लाख 58 हजार परिवारों के अपना घर का सपना साकार हुआ है।

‘सबके लिए आवास’ का सपना जरूर पूरा होगा-

बता दें कि योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से ‘सबके लिए आवास’ का सपना जरूर पूरा होगा। लाइट हाउस प्रोजेक्ट के शिलान्यास कार्यक्रम के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम आवास योजना (शहरी) पुरस्कार 2019 की घोषणा की। योजना के सर्वश्रेष्ठ क्रियान्वयन के लिए उत्तर प्रदेश को पहला पुरस्कार दिया गया। यही नहीं, उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर नगर पालिका को देश की सर्वश्रेष्ठ नगर पालिका का पुरस्कार भी दिया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के छह राज्यों में ग्लोबल हाउसिंग टेक्नोलॉजी चैलेंज- इंडिया (जीएचटीसी- इंडिया) के तहत हल्के मकान से जुड़ी परियोजनाओं (लाइट हाउस प्रोजेक्ट्स) की शुक्रवार को आधारशिला रखी। एलएचपी के लिए राष्ट्रीय स्तर पर उत्तर प्रदेश का चयन मॉडल के रूप में किया गया है। इसके तहत, राजधानी लखनऊ के अवध बिहार योजना में 01 करोड़ 31 लाख की लागत से लाइट हाउस प्रोजेक्ट (एलएचपी) का निर्माण किया जाना है।

भवनों के निर्माण में ‘स्टे इन प्लेस फॉर्म वर्क’ तकनीक का प्रयोग-

इसके साथ ही इन भवनों के निर्माण में ‘स्टे इन प्लेस फॉर्म वर्क’ तकनीक का प्रयोग किया गया है। यह भवन अधिक टिकाऊ, पर्यावरण अनुकूल और आपदा रोधी होंगे। योजनान्तर्गत प्रायोगिक तौर पर यूपी में करीब 1040 लोगों के लिए भवन बनना प्रस्तावित हैं। प्रत्येक आवास का कारपेट एरिया 34.5 वर्ग मीटर होगा। एक वर्ष के भीतर यह परियोजना पूरी हो जाएगी।

Recent Posts

जीवन दांव पर लगाकर कोरोना मरीजों का उपचार करने वाले डा.अजय यादव सम्मानित

 लखनऊ। कोरोना काल में तमाम कोरोना योद्धाओं ने लोगों, समाज व कोरोना पीड़ितों की मदद… Read More

1 hour ago

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेद का सहारा लेना चाहिए : डॉ. विक्रम सिंह

लखनऊ। कोरोना वायरस एक वायरल संक्रमण है, जो सीधे हमारी इम्युनिटी को प्रभावित करता है,… Read More

1 hour ago

बहुराष्ट्रीय कंपनियों का मुकाबला करेंगे युवा व्यापारी

लखनऊ। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल की युवा इकाई उत्तर प्रदेश युवा उद्योग व्यापार मंडल… Read More

2 hours ago

स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा, पंचर साइकिल से रेस नहीं जीत सकते अखिलेश

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सपा की साईकिल यात्रा… Read More

2 hours ago

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित

लखनऊ। यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी ने बुंदेलखण्ड एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्यो… Read More

2 hours ago

गरीबों के लिए कार्य कर रहे नरेन्द्र मोदी : स्वतंत्रदेव सिंह

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने गुरूवार को कहा कि… Read More

2 hours ago