वृंदावन कुंभ में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत ने किए बांके बिहारी के दर्शन  

मथुरा: वृंदावन कुंभ मेला परिसर में बांके बिहारी महाराज के दर्शन एवं विप्र समाज के मुखारविंद से बरस रहा सरस रस परमानंद की अनुभूति करा रहा है। मैं ब्रज के गौरवशाली इस अमृत महोत्सव से विशेष अभिभूत हूं। ये बातें यूपी सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहीं।

यह भी पढ़ें:  UP: अब महिलाएं चलाएंगी पिंक बस, अगले हफ्ते से शुरू होगी ट्रेनिंग

वृंदावन कुंभ मेले में आयोजित ब्राह्मण सेवा संघ शिविर में रविवार को ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने श्रीबांके बिहारी महाराज के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि ब्राह्मण सेवा संघ शिविर में कुंभ कलश लिए गरुड़ महाराज की भव्य झांकी इस अद्भुत महोत्सव की शोभा में चार चांद लगा रही है। उन्‍होंने कहा, मैं इसके लिए विप्र समाज की सूझबूझ एवं मेला परिसर में सेवा कार्यों के लिए उन्हें बहुत-बहुत धन्‍यवाद देता हूं।

 

banke 1 1 वृंदावन कुंभ में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत ने किए बांके बिहारी के दर्शन  

 

कुंभ व्‍यवस्‍थाओं के लिए यूपी सरकार की सराहना

वहीं, ब्राह्मण सेवा संघ के अध्यक्ष आचार्य आनंदबल्लभ गोस्वामी ने श्रीकांत शर्मा को ब्राह्मण सेवा संघ शिविर में संचालित यज्ञशाला, चिकित्सालय एवं अन्य सेवा प्रकल्पों की जानकारी दी। इस अवसर पर कार्ष्णि श्री नागेंद्र महाराज ने सरकार द्वारा वृंदावन में की गई कुंभ व्यवस्थाओं की प्रशंसा करते हुए कहा कि 2021 का वृंदावन कुंभ ऐतिहासिक एवं अद्भुत है। बृजवासी इसके लिए प्रदेश सरकार के कृतज्ञ हैं।

 

banke वृंदावन कुंभ में ऊर्जा मंत्री श्रीकांत ने किए बांके बिहारी के दर्शन  

 

आज शिविर के विभिन्न आयोजनों में भाजपा के यूपी कार्यकारिणी सदस्य चेतन स्वरूप पाराशर, भाजपा महिला मोर्चा की जिला मंत्री ममता भरद्वाज, अखिल भारतीय हिंदू महासभा की जिलाध्यक्ष छाया गौतम, निगम पार्षद अशोक शर्मा एवं रोमेक्स इंटरनेशनल के डायरेक्टर चौधरी शिशुपाल सिंह, सह जिला विद्यालय निरीक्षक सुभाष गौतम ने भी भाग लिया।

शाही स्‍नान के दिन लगा भक्‍तों का तांता

इससे पहले शनिवार को कुंभ पूर्व वैष्णव बैठक मेले में पहले शाही स्नान में कई राज्यों से साधु-संत और भक्त आस्था की डोर से बंधे चले आए। कुंभ में श्रद्धालुओं के दल से लघु भारत के दर्शन हो रहे थे। पहले शाही स्‍नान में विदेशी श्रद्धालु भी पहुंचे थे। माघ पूर्णिमा पर पहले शाही स्‍नान के अवसर पर सुबह से शाम तक केशीघाट से लेकर देवरहा बाबा घाट तक श्रद्धालुओं के स्नान करने का क्रम जारी रहा।

अगर आप भी लेती हैं पीरियड्स में पेनकिलर तो हो जाएं सावधान, इन बड़ी परेशानियों का करना पड़ सकता है सामना

Previous article

जम्मू: गुलाम ने अलापा मोदी का राग, चाय बनाने का ज़िक्र करते हुए कही ये बातें

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured