वाराणसी में अब CNG से चलेगी नाव, पीएम मोदी करेंगे शुभारंभ

वाराणसी: वाराणसी में गंगा में चलने वाली नाव जल्‍द ही सीएनजी से चलेगी। शनिवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सीएनजी स्‍टेशन का निरीक्षण करने के साथ ही CNG से नाव संचालन की टेस्टिंग कराई है।

यह भी पढ़ें: काशी में प्रियंका गांधी बोलीं- जो संत रविदास ने सिखाया वही सच्चा धर्म

पेट्रोलियम मंत्री ने आज काशी के खिड़किया घाट के विस्‍तारीकरण और सुंदरीकरण का भी निरीक्षण किया। वहीं, सीनएजी से संचालित होने वाली नाव की टेस्टिंग कराने के बाद केंद्रीय प्राकृतिक गैस मंत्री ने कहा कि, इसकी टेस्टिंग पूरी तरह सफल रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्‍द ही इसका शुभारंभ करेंगे।

 

 

CNG के इस्‍तेमाल से नाविकों को मिलेगा आर्थिक लाभ

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान संत रविदास मंदिर में दर्शन पूजन के बाद खिड़किया घाट पहुंचे और खिड़किया घाट पर बने गेल इंडिया के सीएनजी स्टेशन का दौरा किया। इस दौरान उन्‍होंने कहा, प्रधानमंत्री की कल्‍पना है कि गंगा में चलने वाली नाव, डीजल के बजाए CNG से चले जिससे नाविकों की बचत हो सके। सीएनजी के इस्‍तेमाल से नाविकों को आर्थिक लाभ मिलेगा।

 

 

उन्‍होंने कहा, सीएनजी नाव से गंगा का प्रदूषण भी कम होगा। उन्होंने अपील करते हुए कि नाव में सीएनजी का इस्‍तेमाल करें और इसके लिए सीएनजी स्‍टेशन स्थापित हो चुका है। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा अब तकनीकी रूप से गंगा में प्रवेश कर चुका है।

स्मार्ट सिटी के तहत हो रहा बनारस का सुंदरीकरण

पेट्रोलियम मंत्री ने कहा, पीएम ऊर्जा गंगा की शुरुआत प्रधानमंत्री ने काशी से ही की थी और यहां घरेलू ईंधन तो पाइप में मिल गया। इस दिशा में गेल व मेकन तेजी से काम कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा, बनारस का सुंदरीकरण स्मार्ट सिटी के तहत किया जा रहा है। इसके लिए काशी विश्वनाथ धाम कारिडोर, गंगा के घाट, खिड़किया घाट सभी सजाए-संवारे जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा, काशी की विरासत को आधुनिक समय के लिहाज से सजाया जा रहा है, जिससे लोगों को आध्यात्मिक पर्यटन के लिहाज से सुंदर स्थान उपलब्ध कराया जा सके।

‘आरंभ’ से मिलेगी उत्तर प्रदेश में स्टार्टअप को नई उड़ान, जानिए क्या है यह प्रोग्राम

Previous article

सीएम रावत ने की ‘‘घरैकि पहचाण चेलिक” नामक कार्यक्रम की अभिनव शुरुआत, साथ ही 4338.35 लाख की धनराशि के कार्यो का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured