December 8, 2022 6:34 pm
featured उत्तराखंड राज्य

उत्तराखण्ड स्पेस एप्लिकेशन सेन्टर की बैठक मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संपन्न हुई

उत्पल कुमार सिंह ने की बैठक.......2 उत्तराखण्ड स्पेस एप्लिकेशन सेन्टर की बैठक मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संपन्न हुई

उत्तराखण्ड स्पेस एप्लिकेशन सेन्टर की गवर्निंग बॉडी की 9वीं बैठक मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में  मंगलवार को सचिवालय सभागार में  सम्पन्न हुई। जिसमें यूसैक के निदेशक डॉ एम.पी.एस बिष्ट द्वारा यूसैक की प्रगति विवरण, वर्ष 2015-16, 2016-17 एवं 2017-18 के वित्तीय विवरण प्रस्तुत किया गया। प्रस्तुतीकरण के दौरान निदेशक डॉ. बिष्ट द्वारा यूसैक द्वारा किये जाने वाले कार्यों पर विस्तार से प्रकाश डाला गया।

उत्पल कुमार सिंह ने की बैठक.......2 उत्तराखण्ड स्पेस एप्लिकेशन सेन्टर की बैठक मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संपन्न हुई
उत्तराखण्ड स्पेस एप्लिकेशन सेन्टर की बैठक मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संपन्न हुई

इसे भी पढ़ें-सीएम कमल नाथ ने मुख्य सचिव को भेंट किया कृतज्ञता प्रस्ताव

मुख्य सचिव द्वारा यूसैक के सदस्यों से अपेक्षा की गई कि वे यूसैक द्वारा किये जा रहे शोधों का उपयोग संबंधित विभागों के साथ करने के लिए समन्वय स्थापित करें ताकि शोध के उद्देश्यों का लाभ पात्रों तक पहुचाया जा सके। यू सैक द्वारा सौंग नदी पर खनन नियंत्रण हेतु मॉडल डिजायन 45 दिन में तैयार कर अवलोकन कराने का आश्वासन दिया गया। उन्होंने बताया कि यूसैक द्वारा मुख्यमंत्री के निर्देश पर उत्तराखण्ड के जल संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए रामगंगा में गैरसैंण, पूर्वी नयार में स्यूंसी, खैरासैंण, पैथाणी में बहुउद्देशीय तालाबों का बेसिक सर्वे करके चिन्हीकरण किया गया है।

इसे भी पढ़ें-शीतकालीन खेल आयोजन के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बैठक की गई

मुख्य सचिव ने बताया कि यूसैक द्वारा स्कूल मैपिंग प्रोगाम पर्यटन क्षेत्र में केव सर्किट, पंचायत के क्षेत्र में मैपिंग, विधानसभा क्षेत्र मैपिंग प्रोगाम, वैटलैंड मैपिंग, जीओ मॉरफोलॉजी मैपिंग, पुस्तिका प्रकाशन, विकासखण्ड तथा जिला स्तर में प्रशिक्षण एवं कौशल विकास एवं प्रबंधन प्रोगाम तैयार किये गये हैं जिसका लाभ संबंधित विभागों को प्राप्त हो रहा है। इस अवसर पर सचिव आईटी आर.के.सुधांशु, प्रभारी सचिव नियोजन बी.एस मनराल, अपर सचिवबीसी तिवारी, महानिदेशक यूकॉस्ट डॉ राजेन्द्र डोभाल, आईआईआरएस के प्रो. पी. के. चंपति राय, निदेशक वाडिया इंस्टीटयूट डॉ. मीरा तिवारी आदि मौजूद थे।

Related posts

दिल्ली के अस्पताल फुल, 100 से भी कम बचे ICU बेड, ऑक्सीजन की भी कमी- केजरीवाल

Saurabh

संसद में हंगामे से नाराज उपराष्ट्रपति, नेताओं से उठ जाएगा जनता का भरोसा

Vijay Shrer

नीतीश और शिवपाल के सवाल पर अमित शाह ने दिया जबाब

piyush shukla