देश भारत खबर विशेष यूपी राज्य

मेरठ के एसपी का ‘पाक जाओ’ बयान: केशव मौर्या ने किया बचाव, नकवी बोले निंदनीय

sp मेरठ के एसपी का 'पाक जाओ' बयान: केशव मौर्या ने किया बचाव, नकवी बोले निंदनीय

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के मेरठ शहर के एसपी अखिलेश नारायण सिंह के बयान पर अब बीजेपी में ही दो स्‍वर सुनाई देने लगे हैं। एसपी के बयान की चौतरफा निंदा होते देख बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सिटी एसपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। वहीं उत्‍तर प्रदेश के डेप्‍युटी सीएम केशव मौर्या ने एसपी का बचाव किया है। उन्‍होंने कहा कि एसपी सिटी ने सभी मुस्लिमों के बारे में नहीं कहा था।

सभी कॉमेंट्स देखैंअपना कॉमेंट लिखेंमुख्तार अब्बास नकवी ने मेरठ के एसपी सिटी के विवादास्पद बयान पर कहा, ‘अगर किसी पुलिसकर्मी ने ऐसा किया है, तो उसपर कार्रवाई होनी चाहिए। इस बात की जांच होनी चाहिए। पुलिसकर्मियों का काम शांति बहाल करना होता है।’ बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल विडियो में मेरठ के एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह लोगों को धमकाते हुए दिख रहे हैं। विडियो में वह कह रहे हैं, ‘इस गली को ठीक कर दूंगा मैं, एक-एक घर के एक-एक आदमी को जेल में बंद करूंगा मैं, बर्बाद करके रख दूंगा करियर। खाते यहां का हो और गाते कहीं और का हो।’

एसपी सिटी का बयान गलत नहीं: केशव

विडियो में वह कथित रूप से यह कहते भी सुने जा रहे हैं कि विरोध में काली-पीली पट्टी बांधने वाले पाकिस्तान चले जाओ। उधर, यूपी के डेप्‍युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने एसपी का बचाव किया है। केशव ने कहा, ‘उन्‍होंने (एसपी ने) सभी मुस्लिमों के बारे में यह नहीं कहा था। जो लोग पत्‍थरबाजी के दौरान पाकिस्‍तान के समर्थन में नारे लगा रहे थे, उन्‍हें कहा था। जो लोग इस तरह की गतिविधि में शामिल हैं, उनके लिए एसपी सिटी का बयान गलत नहीं है।’

माया ने भी की कार्रवाई की मांग

बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने भी मेरठ में अल्पसंख्यकों को पाकिस्तान चले जाने की धमकी दे रहे एसपी की भाषा और आचरण की कड़ी निंदा करते हुए ऐसे पुलिसकर्मियों की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच कराने की मांग की है। मायावती ने रविवार को किए गए ट्वीट में कहा, ‘उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में वर्षों से रह रहे मुसलमान भारतीय हैं ना कि पाकिस्तानी। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और एनआरसी के विरोध-प्रदर्शन के दौरान खासकर उत्तर प्रदेश के मेरठ एसपी सिटी का उनके लिए साम्प्रदायिक भाषा/टिप्पणी की प्रयोग करना अति निन्दनीय और दुर्भाग्यपूर्ण है।’

मायावती ने मांग की कि ऐसे सभी पुलिसकर्मियों की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच होनी चाहिए और दोषी होने के सही सबूत मिलने पर उनको तत्‍काल नौकरी से बर्खास्त किया जाना चाहिए। विडियो पर विवाद बढ़ने के बाद अखिलेश नारायण सिंह ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि जिस गली का व‍िडियो सामने आया है, उसमें कुछ अराजक तत्व ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगा रहे थे, इसीलिए उन्होंने पाकिस्तान चले जाने की बात कही थी।

यूपी सरकार के प्रवक्‍ता ने एसपी का समर्थन किया

इस बीच राज्य सरकार के प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने मेरठ के पुलिस अधीक्षक (नगर) अखिलेश नारायण सिंह के इस वियो पर उनकी तारीफ की है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘सैल्यूट है मेरठ के सिटी एसपी अखिलेश नारायण सिंह को, पाकिस्तान जिंदाबाद और भारत मुर्दाबाद के नारे लगा रहे उपद्रवियों को करारा जवाब देने के लिए। अब कुछ तथाकथित प्रबुद्धों को अफसोस है कि भारत मुर्दाबाद और पाकिस्तान जिंदाबाद बोलने वाले गद्दारों को पाकिस्तान जाने को क्यों कहा।’

Related posts

राहुल गांधी के हाथ वाले बयान पर भाजपा ने CEC में की शिकायत

shipra saxena

अमित शाह के बयान का आजम खान की पत्नी ने दिया जवाब, कहा- आजम एक मजबूत राष्ट्रीयवादी

Rani Naqvi

गुरमेहर कौर का आरोप, एबीवीपी से मिल रही हैं रेप की धमकियां

Rahul srivastava