वाराणसी हादसा: मायावती का हमला, हादसे को ‘मन पर बोझ’ बताकर पल्ला न झाड़े सरकार, करे सख्त कार्रवाई

वाराणसी हादसा: मायावती का हमला, हादसे को ‘मन पर बोझ’ बताकर पल्ला न झाड़े सरकार, करे सख्त कार्रवाई

मंगलवार को हुआ वाराणसी हादसा कुछ लोगों के लिए बहुत बड़ा अभिशाप साबित हुआ है। इस हादसे के चपेट में कई वाहनों के आने से 18 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोग घायल हो गए हैं। वारणसी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से हुए हादसे पर बसपा सुप्रीमो  मायावती ने संवेदना जताई है। उन्होंने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि कहा कि प्रधानमंत्री के ससंदीय क्षेत्र में हादसे से गहरा दुख हुआ है। घटना के लिए जो भी लापरवाह और गैरजिम्मेदार लोग हैं, सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करे। उन्होंने मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग उठाई।

 

वाराणसी हादसा

 

मायावती ने कहा कि ऐसे संगीन मामलों को भी बीजेपी के शीर्ष नेता ‘मन पर बोझ’ बता कर जिम्मेदारी से मुक्ति ले ले रहे हैं, जो सही नहीं है। इसके लिये कुछ ठोस सुधारात्मक कार्रवाई व उपाय भी करने की सख़्त जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार पीड़ित परिवारों व घायलों को मुआवजा देकर जिम्मेदारी से मुक्त हो जाती है लेकिन सरकार का असली कर्तव्य है कि वह दोषियों की पहचान करके सजा सुनिश्चित करे ताकि घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो।

 

 

बता दें कि मंगलवार को शाम में वाराणसी के कैंट इलाके में निर्माणाधीन फ्लाईओवर का बीम गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई, जबकि इस हादसे में कई लोगों के घायल होने की खबर है। इस हादसे को लेकर केंद्र से लेकर उत्तर प्रदेश सरकार एक्शन में है। बुधवार सुबह से ही एस हादसे की जांच शुरू कर दी गई है। घटनास्थल पर पहुंची फोरेंसिक टीम साक्ष्य जुटा रही है। ड्रोन से फोटोग्राफी कराई गई है।

 

वाराणसी हादसे को लेकर अखिलेश ने सीएम को घेरा, अब तक 18 लोगों की मौत

 

वहीं, वाराणसी के सिगरा थाने में सस्पेंड अफसरों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। सिगरा इंस्पेक्टर की तहरीर पर सिगरा थाने में सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक, पर्यवेक्षण अधिकारी सहित चार के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया।

 

 

बता दें कि पीएमओ लगातार घटना को लेकर अपडेट ले रहा है, वहीं सीएम योगी खुद पूरे हादसे मामले पर नजर रख रहे हैं। हादसे की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने तत्काल जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर दी थी। वो खुद मंगलवार की रात वाराणसी पहुंचे और घटना के कारणों की जांच की।