September 20, 2021 7:48 pm
featured यूपी

मथुराः शौकीन चोर कालिया गिरफ्तार, 25 हजार रुपए का था इनाम, जानिए अपराधिक इतिहास

मथुराः शौकीन चोर कालिया गिरफ्तार, 25 हजार रुपए का था इनाम, जानिए अपराधिक इतिहास

मथुराः एक चोर बचपन से अपने शौक को पूरा करने के लिए आपराधिक घटनाओं को अंजाम देते चला आ रहा था। बड़ा होने पर गैंग बनाकर लूट की वारदाओं को अंजाम देने लगा। पुलिस ने इस शातिर चोर पर 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया। जिसके बाद बीते बुधवार को पुलिस ने इस शातिर को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि ये चोर रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में सवार यात्रियों को अपना शिकार बनाता था। पुलिस काफी दिनों से इसकी तलाश कर रही थी।

गिरफ्तार अपराधी का इतिहास

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार हुई युवक का नाम सुखबीर उर्फ चौटाला उर्फ कालिया है। ये शातिर महज 8 साल की उम्र से ही अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने लगा। अपनी गैंग के साथ मिलकर ट्रेनों व रेलवे स्टेशनों पर चोरी, लूट व डकैती की घटनाओं को अंजाम दिया करता था।

बताया जा रहा है कि सुखबीर 8 साल की उम्र में ट्रेन व रेलवे स्टेशनों पर चने बेचता था। इस दौरान ज्यादा पैसे कमाने की चाहत ने उसके कदम अपराध जगत की ओर मोड़ दिए। शुरु में वह छोटी-छोटी चोरियां करने लगा। धीरे-धीरे उसकी हिम्मत बढ़ती चली गई और वह इस चोरी के पैसों से महंगे शौक पूरे करने लगा।

उम्र बढ़ने के बाद सुखबीर के शौक भी बढ़ने लगे और उन्हें पूरा करने के लिए उसने बड़ी चोरियों को अंजाम देना शुरू किया। सुखबीर कई बार जेल जाने के बाद उसने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर एक गैंग तैयार किया। इस गैंग का मुखिया वह खुद था। सुखबीर पर गैंगस्टर एक्ट के तहत पहले भी कार्रवाई हुई थी और वह जेल गया था। लेकिन जेल से बाहर आने पर भी उसके अपराध कम नहीं हुए। सुखबीर के इस गैंग का बस एक ही उद्देश्य था कि अपराध करके रुपए कमाना। इस गैंग ने अपने उद्देश्य को पूरा करने के लिए कई बार ट्रेनों व रेलवे स्टेशनों पर अनेकों चोरियां की।

प्रभारी निरीक्षक थाना जीआरपी मथुरा जंक्शन सुबोध कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी सुखबीर चौटाला पिछले कई महीने से गैंगस्टर एक्ट के अपराध में लिप्ट था। कई बार इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने प्रयास किया लेकिन ये हर बार फरार हो जाता था। जिसके बाद पुलिस पुलिस उपमहानिरीक्षक रेलवे ने 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया।

बीती रात मुखबिर से सूचना मिली कि ये कहीं और बाहर जाने की फिराक में हैं। जिसके बाद हमने इसे गिरफ्तार कर लिया। अब इसको न्यायालय में पेश किया जायेगा।

Related posts

शामली: गैस लीक होने से 300 बच्चे बीमार, सीएम ने दिए जांच के आदेश

Pradeep sharma

अहमदाबाद अस्पताल मामला: आंकड़ा बढ़ा, 3 दिन में हो चुकी है 18 नवजात शिशुओं की मौत

Pradeep sharma

Vaastu Shastra: वास्तु का रखें ध्यान तो घर में होगी धनवर्षा, जानिए कैसे

Aditya Mishra