बनी बनाई जूलरी को कम कीमत में नीलाम कर रही मन्नापुरम फाइनेंस कंपनी

नई दिल्ली। सोने की कीमतों में गिरावट जारी है, फिलहाल रेट इस समय 31,500 रुपए प्रति दस ग्राम के आसपास चल रहा है। जब सोने की जूलरी खरीदने जाते हैं तो आपको मेकिंग चार्जेज़ भी देने पड़ते हैं। ऐसे में जूलरी के दाम बढ़ जाते हैं। लेकिन गोल्ड लोन देने वाली कंपनी मन्नापुरम फाइनेंस बनी बनाई जूलरी को कम कीमत में नीलाम कर रही है। दरअसल इनके बदले ग्राहक लोन लेते हैं, मगर तय समय तक लोन न चुकाने की वजह से कंपनी से इसे छुड़वा नहीं पाते। आपको बता दें कि फिलहाल, कपंनी कुल 46 शहरों में जूलरी की ऑक्शन कर रही हैं।

नीलामी से पहले ये कंपनियां नोटिस देती है

बता दें कि नीलामी से पहले नोटिस- नीलामी से पहले ये कंपनियां नोटिस देती है। ग्राहक जब 12 महीने से अपनी ईएमआई नहीं चुकाता है, तो कंपनियां उसे नोटिस भेजती हैं। उसके बाद भी अगर ग्राहक कर्ज नहीं चुकाता है, तो फिर आरबीआई नियमों के मुताबिक कार्रवाई की जाती है।

वहीं नीलामी रिजर्व बैंक के नियमों के अनुसार होती है। साथ ही आरबीआई का एक पर्यवेक्षक भी मौजूद होता है। अफसर के अनुसार, हमारी कोशिश होती है कि विज्ञापन के जरिये डिफॉल्ट करने वाले ग्राहकों को सतर्क किया जाए कि अगर वह अपनी ज्वेलरी वापस नहीं लेंगे, तो वह नीलाम हो जाएगी। इसका कुछ असर भी होता है, लेकिन इसके बाद अगर ग्राहक नहीं आता है, तो फिर नीलाम करने का ही विकल्प बचता है।

साथ ही नीलामी प्रोसेस- नीलामी के लिए 29 सितंबर की तारीख तय की है। कंपनी ने जानकारी दी है कि नीलामी 29 तारीख की सुबह 10 से शुरू होगी। कंपनी ने यह भी बताया कि अगर किसी वजह से नीलामी का वेन्यू बदला जाता है तो उसकी जानकारी कंपनी की वेबसाइट पर मिल जाएगी या फिर जहां पहले वेन्यू फाइनल हुआ था वहां पर नए वेन्यू के लिए नोटिस लगा दिया जाएगा।

पैन कार्ड देना जरूरी- नीलामी में भाग लेने के लिए बोलीदाता के पास पैन कार्ड और आईडी कार्ड होना जरूरी है. इसके बाद ही वह बोली लगा सकेगा. ऐसा इसलिए किया जाता है कि कोई खरीदार ब्लैकमनी का इस्तेमाल नहीं कर सके. कंपनी नीलामी तारीख या जगह में बिना किसी पूर्व सूचना के बदल सकती है और इसकी जानकारी कंपनी की वेबसाइट और नीलामी सेंटर पर मिल जाएगी.

इन ब्रांच में होगी नीलामी- देश के 3 राज्यों के अलग-अलग शहरों में नीलामी के 46 सेंटर चुने गए हैं. झारखंड, हरियाणा और उत्तराखंड में कंपनी ने कुल 46 सेंटर बनाएं हैं, जहां पर नीलामी की जाएगी. झारखंड में बोकारो, धनबाद, हजारीबाग, जमशेदपुर, राची समेत कई सेंटर्स पर नीलामी होगी. हरियाणा में गुरुग्राम, फरीदाबाद, बहादुरगढ़, सोनीपत और रोहतक, वहीं उत्तराखंड में देहरादून और हरिद्वार समेत कई पर जगहों पर नीलामी की जाएगी