September 23, 2021 11:42 am
featured यूपी

राजधानी के युवक मनीष राघव ने लॉकडाउन में बनाया नया कीर्तिमान

raghav राजधानी के युवक मनीष राघव ने लॉकडाउन में बनाया नया कीर्तिमान

कोरोना महामारी के बीच जहां ज्यादातर लोग मंदी की मार झेल रहे हैं वहीं लखनऊ के एक टीचर ने आपदा में अवसर खोज निकाला।

यूपी। कोरोना महामारी के बीच जहां ज्यादातर लोग मंदी की मार झेल रहे हैं वहीं लखनऊ के एक टीचर ने आपदा में अवसर खोज निकाला। जहाँ लॉकडाउन में लोग घरों से निकलकर कुछ अवसर पाना चाह रहे थे वही राजधानी लखनऊ के टीचर मनीष राघव ने एक ऐसा कीर्तिमान बना डाला जिसने घर परिवार या शहर ही नहीं पूरे हिंदुस्तान का नाम ऐशिया महाद्वीप में रोशन कर दिया है। मनीष जो कि एक स्पोकेन इंग्लिश के टीचर और अमेरिकन इन्स्टिटूट के डाईरेक्टर हैं उन्होंने लॉकडाउन के दौरान घर में फ़िज़ूल समय की बर्बादी करने की बजाए आपदा में अवसर ढूँढने का सोचा और वर्ल्ड की सबसे लम्बी ऑनलाइन क्लास पढ़ा डाली।

raghav.jpg2 राजधानी के युवक मनीष राघव ने लॉकडाउन में बनाया नया कीर्तिमान

बता दें कि विगत 29 अप्रेल को इन्होंने इस कीर्तिमान को बनाया और 11 मई को ऐशिया बुक ओफ़ रिकोर्डस और इंडिया बुक ओफ़ रिकोर्डस में अपना नाम दर्ज कर एक नया कीर्तिमान बनाया और अपने शहर और देश का नाम रोशन किया। मनीष ने ये कीर्तिमान लगातार 12 घंटे 40 मिनट ऑनलाइन इंग्लिश और पर्सनालिटी डिवेलप्मेंट की क्लास पढ़ाकर बनाया जिसमें क़रीब 35 छात्रों ने भाग लिया  मनीष ने बताया की उनके सहयोग के लिए टेक्निकल पार्ट में निखिल सक्सेना और अंकित मिश्रा तथा अकेडमिक पार्ट में शबाना खान ने इनका पूरा सहयोग किया। मनीष ने घर पर ही बिना कुछ खाए सुबह 7 बजे से पढ़ाना शुरू किया और पूरा दिन ऑनलाइन पढ़ाया।

https://www.bharatkhabar.com/uttarakhand-government-takes-a-big-decision/

इसमें उन्होंने छत्तीसगढ़ बैंगलोर सुल्तानपुर प्रतापगढ़ बिहार प्रयागराज से लेकर चेन्नई तक के छात्रों को भी इंटर्व्यू स्किल पर्सनालिटी डिवेलप्मेंट और कम्यूनिकेशन सकिल्स का ज्ञान दिया ।  इससे पहले भी मनीष राघव ने बेस्ट इन्स्टिटूट ओफ़ इंडिया और मोस्ट प्रॉमिसिंग टीचर ओफ़ नोर्थ इंडिया का अवार्ड राज्यमंत्री श्री चेतन चौहान के द्वारा प्राप्त कर चुके हैं । मनीष राघव पिछले 18 साल से स्पोकेन इंग्लिश की शिक्षा छात्रों को देते आ रहे हैं । मनीष ने अपना करीयर आगरा से शुरू किया आज मनीष अमेरिकन की ब्रांच लखनऊ कानपुर व फ़िरोज़ाबाद में चलाते हैं लेकिन लाक्डाउन के चलते अभी इनकी सारी ब्रांच बंद चल रही हैं।

अपनी कामयाबी के पीछे मनीष अपनी माताजी ऐवम अपने बड़े भाई अमित राघव एवं अपने मित्र विवेक सिंह को भी पूरा श्रेय देते हैं और ये भी नहीं भूलते की उनकी इस कामयाबी में उनके स्टाफ़ टीचर्ज़ का भी बहुत बड़ा हाथ है । प्रफ़ेशनल लाइफ़ के अलावा पर्सनल लाइफ़ में भी मनीष कयी चीज़ों में ऐक्टिव रहते हैं जिसमें उनका बॉडी बिल्डिंग और बाइक राइडिंग मुख्य रूप से उन्हें पसंद हैं । मनीष लखनऊ के राइडिंग क्लब्ज़ में भी अहम भूमिका निभाते हैं और सभी तरह को सोशल कॉज़ेज़ में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं ।

Related posts

सोनिया गांधी ने रामलीला मैदान में ‘भारत बचाओ रैली के दौरान केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला

Rani Naqvi

पाक सुप्रीम कोर्ट ने 100 साल पुराने मामले में सुनाया फैसला

Breaking News

अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामले में 8 मार्च को कोर्ट सुनाएगी फैसला

shipra saxena