बागपतः नेपाली महिला का गला काटकर हत्या का प्रयास, शोर मचाने पर आरोपी फरार

बागपतः यूपी-हरियाणा बॉर्डर पर टांडा गांव के पास एक घायल नेपाली महिला चिल्ला-चिल्लाकर मदद की गुहार लगा रही थी। लोगों ने जब महिला को घायल अवस्था में देखा तो उसे लेकर तुरंत थाने पहुंचे जहां पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

नेपाली महिला का कहना है कि वह वह राजकीय इंटर कालेज चकरोता, देहरादून में क्लर्क है और गाड़ी चलाना सीखते समय उसकी दोस्ती बागपत के आर्यन नाम के युवक से हो गई थी। वह उसे अपने गांव घुमाने के बहाने टांडा गांव के पास लेकर आया और चाकू से उसका गला काटकर हत्या करने का प्रयास किया, लेकिन आरोपी का प्लान फेल हो गया और वह घायलावस्था में छोड़कर फरार हो गया।

नेपाल के सुमैया की रहने वाली पायल जायसवाल राजकीय इंटर कालेज नागमार चकरोता, देहरादून में क्लर्क है। आर्यन नाम का युवक देहरादून में गाड़ी चलाना सिखाता है। उसने भी आर्यन से गाड़ी चलाना सीखा था और उसी दौरान उसकी आर्यन से दोस्ती हो गई थी। 10 जुलाई की रात नौ बजे आर्यन उसे अपने घर घुमाने के बहाने से बागपत के छपरौली थाना क्षेत्र के टांडा गांव के पास ले आया। यहां यूपी-हरियाणा का बॉर्डर भी है। आर्यन ने उसे बाइक से तालाब के पास उतार दिया और उसके बाल पकड़कर चाकू से उसका गला काट दिया। इसी दौरान वह उसकी मंशा भांपकर उसके साथ भिड़ गई और शोर मचा दिया। वहां आसपास काम कर रहे लोगों को आता देखकर आर्यन बाइक लेकर फरार हो गया। गांव के लोग उसे छपरौली थाने में ले गए। उसने पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने पायल का सीएचसी छपरौली पर उपचार कराया, जहां से उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। वहां से भी उसे हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। बहरहाल, पायल की हालत खतरे से बाहर बताई जाती है।

इंस्पेक्टर छपरौली प्रदीप शर्मा ने बताया कि, पायल की तहरीर पर आर्यन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

Alert In UP: मोदी के आगमन से पहले वाराणसी में बढ़ी सुरक्षा, दिखे विशेष इंतजाम

Previous article

बागपतः नकली शराब बनाने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश, 8 आरोपी गिरफ्तार

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured