WhatsApp Image 2018 03 19 at 5.22.24 PM मजीठिया से माफी मांगना केजरीवाल की अनुभवहीनता को उजागर करता है: सीएम

चंडीगढ़। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बिक्रम सिंह मजीठिया से माफी मांगे जाने को लेकर पंजाब में राजनीतिक माहौल गरमा गया है। इसी बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का कहना है कि केजरीवाल को मजीठिया से माफी नहीं मांगनी चाहिये थी। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने साल 2019 के चुनाव से पहले मानहानि के मुकदमों का बोझ उतारने के लिए ऐसा किया है और ये कदम उनकी राजनीतिक अनुभवहीनता को उजागर करता है। कैप्टन ने कहा कि केजरीवाल पहले कुछ भी कह कर आरोप लगाकर भागते रहे हैं और अपनी बातों से मुकरते रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि वे ऐसा क्यों करते हैं, लेकिन किसी मुख्यमंत्री का इस तरह से माफी मांगना शौभा नहीं देता।WhatsApp Image 2018 03 19 at 5.22.24 PM मजीठिया से माफी मांगना केजरीवाल की अनुभवहीनता को उजागर करता है: सीएम

सीएम ने कहा कि आम आदमी पार्टी सभी राज्यों में अपना आधार गवां चुकी है और उसके विधायकों ने अपने आपको को लीडरशीप से अलग कर लिया है। कैप्टन ने कहा कि हो सकता है कि केजरीवाल ने साल 2019 के आम चुनावों को देखते हुए माफी मांगी हो, लेकिन उनके लिए इससे बुरी स्थिति नहीं हो सकती। उन्होंने आगे कहा कि पंजाब में आप के विधायक बुरी तरह से त्रस्त हैं और वे अपना भविष्य तलाश रहे हैं। पंजाब में भी आप अपना आधार काफी समय पहले से ही गंवा चुकी है और उसके विधायकों ने अपने आपको अपनी लीडरशीप से अलग कर लिया है।

 

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज कर कांग्रेस केंद्र में अपनी सरकार बनाएगी। या तो वह अकेले अपने दम पर ऐसा करेगी या दूसरी पार्टियों के सहयोग से। त्रिपुरा समेत दूसरे राज्यों में हुई हार और उपचुनाव में भी पार्टी के खराब प्रदर्शन के बारे में कैप्टन ने कहा कि ऐसे उतार चढ़ाव आते रहते हैं। आज कांग्रेस का उतराव दिखाई दे रहा है लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि यह हमेशा ही बना रहेगा। उन्होंने 2019 में बड़े बदलाव का विश्वास जताया। कैप्टन ने कहा कि जिस तरह टीडीपी ने चुनाव से ठीक एक साल पहले अपने आप को एनडीए से अलग कर लिया है, यह इशारा करता है कि लोग कांग्रेस को विकल्प के रूप में देखने लगे हैं।

हुर्रियत कॉन्फ्रेंस की 18 साल कमान संभालने के बाद गिलानी ने दिया इस्तीफा

Previous article

टीडीपी-वाईएसआर के अविश्वास प्रस्ताव पर क्या बिगड़ जाएगा बीजेपी का समीकरण?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.