मैनपुरीः मामूली विवाद में व्यक्ति की हत्या,पुलिस के सामने आरोपियों ने दी थी धमकी

मैनपुरीः मामूली विवाद में व्यक्ति की हत्या,पुलिस के सामने आरोपियों ने दी थी धमकी

उत्तर प्रदेश के जनपद मैनपुरी के औछा थाना क्षेत्र के ग्राम नगला-मिन्ते में मामूली विवाद के चलते एक व्यक्ति को लाठी-डंडों और भाले से गोदकर की मौत के घाट उतारने का मामला प्रकाश में आया है। आपको बता दें कि हमलावरों का हत्या के बाद भी मन नहीं भरा तो आरोपियों ने गोली भी मारी।विवाद की वजह कल शाम कोमृत के घर से आरोपियों के घर में पत्थर फेंकना बताया जा रहा है।इसके बाद विवाद की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस के सामने ही आरोपियों ने मृत व्यक्ति को सुबह तक जान से मारने की धमकी दी थी।

 

मैनपुरीः मामूली विवाद में व्यक्ति की हत्या,पुलिस के सामने आरोपियों ने दी थी धमकी
मैनपुरीः मामूली विवाद में व्यक्ति की हत्या,पुलिस के सामने आरोपियों ने दी थी धमकी

इसे भी पढे़ंःमैनपुरीः स्कूल में मिड डे मील खाने के लिए खुद बच्चों को लाना पड़ता है जलाऊ लकड़ी

पुलिस ने आरोपियों की धमकी को  भले ही हल्के में लिया हो लेकिन आरोपियों ने धमकी के मुताबिक घटना को अंजाम दे दिया।गौरतलब है कि पुलिस की इस गलती की कीमत मृतक को जान दे कर अदा करनी पड़ी। अगर पुलिस सही समय में निर्णय लेती तो व्यक्ति की हत्या नहीं होती।घर से मात्र 700 मीटर की दूरी पर ग्राम रम्पुरा रोड पर आरोपियों ने हत्या कर व्यक्ति का शव फेंक दिया। हत्या की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर उसको पोस्टमार्टम के लिए भेजा। परिजनों की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ नामदर्ज रिपोर्ट लिख ली गई है।

इसे भी पढे़ंःमैनपुरीः महिला की गला दबाकर हत्या, नहीं हुई शव की शिनाख्त

पूरा मामला जनपद मैनपुरी के औंछा थाना क्षेत्र के ग्राम नगला मिंते का है यहां पर मृत व्यक्ति कप्तान सिंह का अपने पड़ोसी विशेश्वर सिंह से कल देर शाम मामूली विवाद हुआ था।जिसमें जो विवाद का कारण निकल कर आया उसके अनुशार-विशेश्वर सिंह के घर में किसी ने कुछ पत्थर फेंक दिए थे।जिसका आरोप उसने मृत व्यक्ति कप्तान सिंह के घर वालों पर लगाया था। इसी के चलते हत्यारोपी विशेश्वर सिंह और उसके भाइयों ने जमकर कप्तान सिंह के घर में पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। जिसके बाद कप्तान सिंह के परिजनों ने कमरे में बन्द होकर अपनी जान बचायी और पुलिस को इसकी सूचना दी।

सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस भी पहुंची पुलिस तो उसी दौरान आरोपी विशेश्वर सिंह अपने भाइयों और भतीजो को साथ लेकर पहुंच गया मृत व्यक्ति के परिजनों का आरोप है कि पुलिस के सामने भी विशेश्वर के भाई सामेश्वर और उसके भतीजे पिन्टू ने धमकी दी कि कल सुबह का सूरज तू देख नहीं पायेगा। धमकी के बाद भी औंछा थाना क्षेत्र की पुलिस ने हल्के में लिया और दोनों पार्टियों को थाने आने के लिए बोल दिया।

इसे भी पढे़ंःमैनपुरीःप्राइवेट-बस और ट्रक में हुई जोरदार भिड़ंत,दर्जन भर घायल

पुलिस के जाने के बाद मृत युवक कप्तान सिंह का बेटा धर्मेन्द्र थाने के लिए देर रात करीब 7 बजकर 30 मिनट पर घर से निकला जिसके बाद मृत व्यक्ति की पत्नी मुन्नी देवी ने अपने पति कप्तान सिंह (मृतक) से कहा कि तुम भी थाने चले जाओ बेटा अकेला गया है। पता नहीं वो लोग रास्ते में क्या कर दें जिसके बाद कप्तान सिंह भी थाने के लिए निकल पड़े।

उसी दौरान  उनको रास्ते में ही विशेश्वर सिंह ने अपने भाइयों रामेन्द्र सिंह,पप्पू यादव,सामेश्वर सिंह और दो भतीजों पिन्टू और अर्जुन के साथ घेरकर उनकी लाठी डंडों और भाले से गोदकर हत्या कर दी। इससे भी जब आरोपियों का मन नहीं भरा तो उसको गोली भी मारी। जान से मारने के बाद उसके शव को उसी के घर से करीब 700 मीटर की दूरी पर फेंककर सभी हत्यारोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

साकिब अनबर