featured धर्म

Mahashivratri 2022: महाशिवरात्रि पर भोलेनाथ की कृपा से चमकेगी किस्मत, अपनाएं ये उपाय

महाशिवरात्रि 1 Mahashivratri 2022: महाशिवरात्रि पर भोलेनाथ की कृपा से चमकेगी किस्मत, अपनाएं ये उपाय

हिंदू मान्यताओं के अनुसार महाशिवरात्रि (Mahashivratri 2022) का विशेष महत्व होता है। इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए शिव भक्त विशेष उपाय व पूजा-अर्चना करते हैं। इस बार महाशिवरात्रि का यह पावन पर्व 1 मार्च 2022 को पड़ रहा है। फागुन मास कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को भगवान भोलेनाथ और मां पार्वती का विवाह हुआ था। और इसे हर साल धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन भगवान शिव के भक्त श्रद्धा व विश्वास के साथ भगवान भोलेनाथ का व्रत और पूजन करते हैं। मान्यताओं के अनुसार भगवान शिव महा शिवरात्रि के दिन पृथ्वी पर मौजूद सभी शिव लोगों में विराजमान होते हैं। इसीलिए इस दिन भगवान शिव की उपासना का कई गुना फल प्राप्त होता है। इस दिन सुहागन महिला अपने सौभाग्य वृद्धि के लिए वही अविवाहित लड़कियां सुयोग्य एवं मनपसंद जीवनसाथी प्राप्ति के लिए भगवान शिव की पूजा अर्चना करते हैं। इस दिन चतुर्दश शिवलिंग की पूजा की जाती है। तो आइए जानते हैं महाशिवरात्रि भगवान शिव को कैसे प्रसन्न किया जाए। 

महाशिवरात्रि पर कैसे करें पूजा

महा शिवरात्रि पर पूजा आरंभ करने से पहले भगवान शिव को पंचामृत से स्नान कराना चाहिए। चंदन का लेप तिलक लगाकर पूरी रात दीपक जलाएं।

बेलपत्र, भांग, धतूरा भगवान भोलेनाथ को बेहद पसंद है। इसलिए इस दिन बेलपत्र, भांग, धतूर, जायफल, फल, मिष्ठान, मीठा पान, इत्र दान, दान दक्षिणा और बाद में केसर युक्त खीर का भोग लगाकर प्रसाद बांटना चाहिए। 

पूजा का शुभ मुहूर्त

महाशिवरात्रि का आरंभ 1 मार्च सुबह 3:16 पर वही समापन 2 मार्च सुबह 10:00 बजे होगा। पूजा अर्चना के लिए पहला मुहूर्त 11:47 से 12:34 तक है। वहीं शाम के 06:21 से रात्रि 9:27 तक है। इन मुहूर्तो के अनुरूप आ भगवान शिव की आराधना कर सकते हैं।

महाशिवरात्रि पर इन उपायों से चमकेगी किस्मत
  • यदि आपके विवाह में समस्या आ रही है तो शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर केसर मिले हुए दूध को अर्पित करें ऐसा करने से जल्द ही विभाग का योग बन सकता है।
  • धन में वृद्धि के लिए मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं और इस दौरान भगवान शिव का ध्यान करें।
  • महाशिवरात्रि के पर्व पर 21 बिल्व पत्रों पर चंदन से ओम नमः शिवाय लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। इससे आपकी इच्छा पूर्ति होगी।
  • शिवरात्रि के दिन गरीबों को भोजन कराएं इससे आपके घर में कभी भी अन्य की कमी नहीं होगी और पितरों की आत्मा को शांति मिलेगी।
  • जल में काला तिल मिलाकर शिवलिंग पर अभिषेक करते हुए ओम नमः शिवाय मंत्र का जाप करें। इससे आपका मन शांत होगा।
  • शिवरात्रि के दिन पार्टी से 11 शिवलिंग बनाई और इनका 11 बार जलाभिषेक करें ऐसा करने से संतान सुख की प्राप्ति होगी।
  • शिवलिंग पर 101 बार जलाभिषेक करें। और ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम् उर्व्वारुकमिव बन्धानान्मृत्यो मृक्षीय मामृतात् । ॐ स्वः भुवः भूः ॐ । सः जूँ हौं ॐ । मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से आप का बहुत पुराना जो जल्द ही समाप्त हो जाएगा। 
  • शिवरात्रि के दिन भगवान शिव पर तिल और जो चढ़ाएं तिल चलाने से पापों का नाश होगा वही जो चढ़ाने से सुख में वृद्धि होगी।

 

Related posts

सैमसंग करेगा दक्षिण कोरिया में 18.6 अरब डॉलर का निवेश

Srishti vishwakarma

इजरायल में पीएम मोदी ने दुनिया के सबसे सुरक्षित होटल में बिताई रात

Pradeep sharma

कानपुर रेल हादसा : ट्रेनों का रूट बदला, यहां जानें पूरी जानकारी

bharatkhabar