featured देश राज्य

महंत नरेन्द्र गिरी का बयान कहा, जातिगत आरक्षण राष्ट्र के विकास में हितकर नही

महंत महंत नरेन्द्र गिरी का बयान कहा, जातिगत आरक्षण राष्ट्र के विकास में हितकर नही

नई दिल्ली : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा कि जातिगत  आरक्षण  राष्ट्र के विकास में हितकर नही है। जातिवाद की गंदी राजनीति पर आधारित आरक्षण का गंदा खेल भारतीय संविधान की मूल आत्मा के विरूद्ध है। यह धर्म, न्याय एवं जनतंत्र के मूल सिद्धान्तों के खिलाफ है।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी (फाइल फोटो)
          अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ( फाइल फोटो )

एकता और अखंडता को विखंडित कर रहा है आरक्षण

साथ ही गिरी ने कहा कि आरक्षण भारतीय जनमानस के बीच भेद-भाव पैदा कर रहा है, वैमनस्य का विष घोल रहा है तथा राष्ट्र की एकता और अखंडता को विखंडित कर रहा है। देश में किसी भी तरह के आरक्षण के लिए मूल आधार आर्थिक स्थिति को बनाया जाए न कि जाति को आधार पर बना आरक्षण दिया जाए।

आरक्षण को जरूरतमंद लोगों तक पहुंचना चाहिए

गिरी ने अपने बयान में आगे कहा कि अयोग्य व्यक्ति जब ऊंचे पदों पर पहुंच जाते है तो न समाज का भला होता है और न ही देश का। आरक्षण जैसी चीजें मूल जरूरत मंदों के पास तक नहीं पहुंच पाती। लोगों को नाम के आगे जाति में सिर्फ हिन्दू लिखना चाहिए न/न कि ब्राह्मण, वैश्य और मुस्लिम। जब जाति ही नहीं रहेगी तो आरक्षण स्वत: ही समाप्त हो जायेगा।

ये भी पढ़ें- बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का बयान कहा, धर्म के आधार पर आरक्षण मंजूर नहीं

महंत गिरी ने कहा कि एक षडय़ंत्र के तहत सनातन धर्म को कमजोर करने के लिए हिन्दू से हिन्दू को लड़वाया जा रहा है जिसका मुख्य कारण जाति प्रथा ही है। जाति प्रथा नहींं होगी तो आरक्षण भी नहीं होगा। एक सवाल के जवाब में कहा कि देश में बड़े पैमाने पर ईसाई मिशनरी गरीब, बेरोजगार लोगों को प्रलोभन देकर उनका धर्मांतरण करा रहे हैं, जो अनुचित है। सरकार को धर्मांतरण रोकने के लिए कठोर कानून बनाना चाहिए और दोषियों को कड़ी सजा दी जानी चाहिए। ईसाई मिशनरियों के पास आखिर इतना धन कहां से आ रहा है इसकी भी जांच होनी चाहिए।

ये भी पढ़ें-

संविधान सभा से जुड़े महत्‍वपूर्ण तथ्‍य और जानकारी

Related posts

बीजेपी एम्स के नाम पर कर रही हिमाचल सरकार को गुमराह: कौल सिंह ठाकुर

Rani Naqvi

शहरों के नाम बदलने की जगह योजनाओं पर खर्च किया जाता तो देश के हालात बदलते

Rani Naqvi

किसी भी बटन को दबाने पर निकल रही है भिंड में भाजपा के नाम की पर्ची

shipra saxena