featured भारत खबर विशेष यूपी

विशेष बातचीत: महंत दिव्यागिरी ने बताया आखिर क्यों खास है सावन का महीना

विशेष बातचीत: महंत दिव्यागिरी ने बताया आखिर क्यों खास है सावन का महीना

लखनऊ: सावन का महीना शुरू हो गया है और आज सावन का पहला सोमवार है। राजधानी स्थित मनकामेश्वर मंदिर में महादेव के दर्शन और उनकी पूजा अर्चना करने के लिए सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ लगी हुई है।

मंदिर में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए भी प्रशासन ने कई तरह के इंतजाम किए हुए हैं। ऐसे में सवाल यह उठता है कि आखिर इस माह का महत्व क्या है। इसी को जानने के लिए भारतखबर.कॉम की टीम मनकामेश्वर मंदिर की महंत दिव्यागिरी के पास पहुंची। उन्होंने सावन के महीने की विशेषता पर प्रकाश डाला है।

माता पार्वती ने भगवान शिव को पति के रूप में किया था स्वीकार

महंत दिव्यागिरी ने बताया है कि ये माह इसलिए खास हो जाता है क्योंकि इसी महीने में माता पार्वती ने भगवान शिव को पति के रूप में माना था। उन्होंने बताया, ‘ मान्यता यह है कि भगवान शिव पृथ्वी पर विचरण करने आते हैं। इसीलिए इस पूरे माह में उनकी भक्ति की जाती है और उत्सव मनाया जाता है। सच्चे मन से भगवान शिव की आराधना करने से वे प्रसन्न होते हैं और जीवन की कठिनाइयों को हर लेते हैं।’

महंत ने बताया है कि इस माह तरह तरह के आयोजन भी होते हैं। हालांकि भगवान शिव को पूजते समय अगर आप प्रकृति का ध्यान रखेंगे तो भगवान अतिशीघ्र प्रसन्न होंगे।

अपनी सेहत का ध्यान खुद रखें: महंत

कोविड प्रोटोकॉल पर महंत दिव्यागिरी ने कहा है कि श्रद्धालुओं को अपनी सेहत का ध्यान खुद रखना होगा। उन्होंने कहा, ‘मंदिर परिसर में मास्क अनिवार्य है, श्रद्धालुओं से अपील है कि वे स्वंय ही दूरी का पालन करें। अगर आप खुद को स्वास्थ्य महसूस कर रहे हैं तभी मंदिर में आकर दर्शन करें। घर पर भी सच्चे मन से भगवान को पूजने पर भगवान उतने की प्रसन्न होते हैं जैसे की मंदिर।’

Related posts

कोरोना और ब्लैक फंगस के बाद अब ये बीमारी आई सामने, बच्चों को कर रही संक्रमित

Rahul

ब्रिटेन ने चीन को दिखाई औकात लगाया बैन..

Rozy Ali

एनआईए को सौंपी जा सकती है उरी हमले की जांच

bharatkhabar