लखनऊः प्रेम विवाह के चलते जेल गया था प्रेमी, अब कोर्ट में होगी दोनों की शादी

लखनऊः प्रेम में मर मिटने वालों के बारे में कई किस्से सुने होंगे, लेकिन राजधानी लखनऊ से एक किस्से ने सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने का काम किया है। एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका के बालिग होने तक जेल में समय काटा और जेट से बेल मिलते ही वह सीधे प्रेमिका के घर शादी करने के लिए पहुंच गया।

सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने दोनों को आशा ज्योति केंद्र भेज दिया है। दोनों बालिग हैं, जिसके आधार पर अब उनकी शादी करवाने की तैयारी हो रही है।

पूरा मामला राजधानी के माल थाना क्षेत्र की है, जहां सुमित यादव अपनी पड़ोस की रहने वाली युवती रितिका से बचपन से ही प्यार करता था। दोनों ने शादी का फैसला किया तो लड़की के परिजन इस बात पर राजी नहीं हुए। इस बीच सुमित यादव और रितिका, जो आठवीं और नौवीं कक्षा में पढ़ रहे थे, ने अपने घर से भागकर 19 अप्रैल को आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। आर्य समाज मंदिर में आधार कार्ड में दर्ज जन्म तिथि के हिसाब से प्रमाण पत्र दे दिया गया।

वहीं, जब इस बात की खबर लड़की पक्ष को लगी तो उन्होंने बर्थ सर्टिफिकेट दिखाते हुए प्रेमी को पुलिस के हवाले कर दिया। सर्टिफिकेट के आधार पर नाबालिग देखते हुए पुलिस ने प्रेमी को जेल भेज दिया। 24 अप्रैल से जेल में बंद सुमित जब 15 जुलाई को जमानत पर घर पहुंचा तो रातभर उसे नींद नहीं आई। सुबह वह सीधा अपनी प्रेमिका रितिका के घर पहुंच गया। इस दौरान वहां जमकर बवाल हुआ। सुमित ने कहा कि वह अपनी पत्नी को ले जाने के लिए आया है।

विवाद बढ़ने पर पहुंची पुलिस को सुमित ने बताया कि वह दोनों बालिग हैं। जिसके बाद पुलिस दोनों को थाने ले आई और उन्हें आशा ज्योति केंद्र भेज दिया। सोमवार को दोनों को कोर्ट ले जाकर शादी का पंजीकरण करवाया जायेगा।

गोरखपुर: जल्द बनेगा यूपी का पहला होटल मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट

Previous article

नोएडाः पीएम मोदी के हाथों होगा जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास!

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured