लखनऊ: आखिर क्यों तबादला नीति से भड़क उठा स्वास्थ्य संगठन, जानिए वजह

लखनऊ: राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने स्वास्थ्य महानिदेशालय में तबादले में अनियमितता का गंभीर आरोप लगाते हुए तबादलों को तत्काल निरस्त करने की मांग उठाई है। आरोप है कि कई कर्मचारियों का समायोजन के नाम पर तबादला किया गया है।

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद का कहना है कि कई पति-पत्नी दोनों कर्मियों को नीति विरुद्ध अलग-अलग जनपदों में नियुक्त किया गया है। उनका कहना है कि अगर इन तबादलों को निरस्त नहीं किया जायेगा तो सभी कर्मचारी आंदोलन करेंगे।

गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग में गुरुवार को लखनऊ सहित 27 जिलों में नए मुख्य चिकित्सा अधिकारियों (सीएमओ) की तैनाती कर दी गई। भदोही, लखीमपुर और बुलंदशहर के सीएमओ अपनी कुर्सी बचाने में सफल रहे। इन्हें तबादले के बाद जौनपुर, गाजियाबाद, लखनऊ में सीएमओ का ही पद मिला है जबकि अन्य को वरिष्ठ परामर्शदाता, संयुक्त निदेशक व अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (एसीएमओ) बनाया गया है।

लखनऊ में संघ की समन्वय बैठक शुरू, सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले व अरुण कुमार होंगे शामिल

Previous article

आज पेट्रोल के दामों में फिर भारी बढ़ोतरी, जानें क्या हुई कीमतें

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured