September 17, 2021 3:39 am
featured यूपी

लखनऊ: केशव देव मौर्य ने कहा कोरोना के नाम पर उल्लू बना रही है बीजेपी, पढ़ें पूरी खबर

लखनऊ: केशव देव मौर्य ने कोरोना के नाम पर उल्लू बना रही है बीजेपी, पढ़ें पूरी खबर

लखनऊ: महान दल के अध्यक्ष केशव देव मौर्य ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। केशव देव मौर्य ने  कहा बीजेपी ने अंबेडकर के सपनों, सावित्री बाई फुले, सपनों को तोड़ रही है। अगर बीजेपी दोबारा आई तो सत्यानाश कर देगी। 2 साल से स्कूल नहीं खुले। ऑनलाइन क्लास के लिए गरीब मोबाइल कहां से लाए।

बीजेपी की सरकार ने शिक्षा का दमन किया। शराब की दुकाने चल रही है वहां भीड़ आ रही क्या उससे कोरोना नहीं होगा। मोदी-शाह की रैली जुलूस से कोरोना नहीं फैलता? मोदी-शाह मास्क नहीं लगाते। बीजेपी वाले कोरोना के नाम पर उल्लू बना रह।

5 हजार पार्टियां हैं।  जिनके पास 10 लोग नहीं उनसे बीजेपी गठबंधन करती है। टीवी चैनलों पर आने वाले नेता अखिलेश से लड़ रहे।  आरएसएस के 2 हाथ दस उंगलियां है ये कौन सी पार्टियां हैं। बताने की जरूरत नहीं। बिहार में तेजस्वी को बेईमानी से हराया गया।

मुझे भी बीजेपी की बी टीम बनाने के लिए मजबूर किया गया। हम आर्थिक रूप से कमजोर है। मेरे पास ढ़ंग की कार भी नहीं है। मैं बिल्कुल ही फकीर आदमी हूं। कुर्ता के अलावा मेरे पास कुछ नहीं है। मैं समाज के पैसे चल रहा हूं।

मैने सपा से शुरुआत की है। अखिलेश यादव जब जौनपुर आए थे तब पहली बार ही इतनी भीड़ थी। सपा का गढ़ जौनपुर है। तब मुश्किल से अखिलेश के साथ फोटो खिचवाई थी। आज मैं उनके साथ बैठा हूं। इस बात की मुझे बहुत खुशी है। मैं कांग्रेस के साथ भी रहा हूं पर जो खुशी आज मुझे मिली है वह कभी नहीं मिली। बाबा साहेब कांशीराम की लड़ाई सपा लड़ेगी, लोहिया, ज्योतिबाफुले, कर्पूरी हमारे आदर्श है। असली हिन्दू धर्म वेद के अनुसार, सभी बराबर है चार वर्ण ब्राह्मण, क्षत्रिय, वैश्य, शुद्र कर्म के अनुसार हैं।

वेद के अनुसार- अखिलेश को क्षत्रिय का दर्जा है जैसे कृष्ण को मिला था। कृष्ण कहते हैं उनकी कई रानियां थी लेकिन कोई बताता नहीं किसी का नाम। राधा से शादी क्यों नहीं हुई, वेद के अनुसार वह यदुवंशी थीं, लेकिन कर्म अनुसार वे क्षत्रिय थे। जबकि राधा यदुवंशी शुद्र थीं। इसलिए शादी नहीं हुई। तब ऐसा संभव नहीं था। उस समय कर्म के अनुसार वर्ण था। 1000 साल पहले यदुवंशी क्षत्रिय की शादी मौर्य क्षत्रिय से होती थी। हम सब एक हैं, हर वर्ण से ब्राह्मण थे।

Related posts

जन्मदिन विशेषः क्रिकेट के दादा की दादागिरी के बारे में विस्तार से जानें

mahesh yadav

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर पीएम की अपील, ‘करें अपने मताधिकार का उपयोग’

Rahul srivastava

14 फरवरी को दिल्ली सरकार के होंगे 2 साल पूरे, मंत्री देंगे कामों का ब्यौरा

shipra saxena