COVID-19
COVID-19

लखनऊ: देश के अलग-अलग राज्यों में कहर ढाने के बाद कोरोना ने यूपी में भी उत्पात मचाना शुरू कर दिया है। उत्तर प्रदेश में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है और संक्रमण के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं। यूपी में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 4164 नए केस सामने आए हैं।

24 लोगों की गई जान 

बता दें कि पिछले 24 घंटे में यूपी में कोरोना से 24 लोगों की मौत हो गई है। अकेले सिर्फ राजधानी लखनऊ में कोविड-19 के 1129 केस सामने आए हैं। पूरे प्रदेश में इस समय सबसे ज्यादा लखनऊ में कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। लखनऊ में अब तक कोरोना से 8 लोगों की मौत हो गई है।

इसके अलावा बात अगर यूपी के दूसरे जिलों की करें तो वाराणसी में कोरोना के जहां 453 मामले सामने आए हैं वहीं कानपुर में 235 केस तो वहीं प्रयागराज में 397 केस सामने आए हैं। इसके अतिरिक्त गोरखपुर में कोरोना के कुल 121 केस मिले हैं।

अगला ठिकाना बना यूपी

बता दें कि गुजरात, पंजाब, महाराष्ट्र में कहर ढाने के बाद कोरोना वायरस का अगला निशाना यूपी है। अगर शुरूआती आंकड़ों पर नजर डालें तो अन्य राज्यों की तुलना में यूपी में कोरोना वायरस की रफ्तार थमी हुई थी। लेकिन जैसे जैसे समय बीता और परिवहन और अन्य व्यवस्थाएं चालू हुईं। यूपी में भी कोरोना ने पैर पसारने शुरू कर दिए।

लापरवाही बनी वजह

वहीं कोरोना की दवाई बाजार में आते ही प्रदेश के लोग लापरवाह हो गए और कोरोना को लेकर जागरुकता खत्म हो गई। लोगों ने मास्क लगाना बंद कर दिया। वहीं सेनेटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना भी छोड़ दिया। इसके अलावा प्रशासन भी कोरोना को लेकर सुस्त हो गया। जिससे एक बार फिर हमें कोरोना के केस दिखाई पड़ने लगे हैं।

सेकेंड वेव ज्यादा खतरनाक!

गौरतलब है कि कोरोना की सेकेंड वेव पहली वेव से ज्यादा खतरनाक साबित हो रही है। कोरोना अब तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा हैं। यूपी के आगरा और मथुरा में कोरोना के अफ्रीकी स्ट्रेन मिलने से वैसे ही हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना का ये स्ट्रैन बहुत ज्यादा संक्रामक होता है। ये दोगुनी गति से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ाता है।

वाराणसी के इस बैंक में कचरे के बदले मिलेगा पैसा, जानिए कैसे

Previous article

जानें इस बार कब पड़ रही है सोमवती अमवस्या, क्या होता है महत्व ?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured