December 5, 2021 10:29 pm
featured भारत खबर विशेष यूपी

सरकार की कोशिशों से जगी उम्मीद, खुद का भविष्य संवारने में जुटे लखनऊ के रिजवान

सरकार की कोशिशों से जगी उम्मीद, खुद के भविष्य को उज्जवल करने में जुटे रिजवान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विकास और रोज़गार को बढ़ावा देने के लिए सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने  विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना (वीएसएसवाई) की शुरुआत की। इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के रचनात्मक वासियों को अपने हुनर को और ज्यादा निखारने के लिए छह दिवसीय फ्री ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी। इससे उन्हें अपना खुद का रोजगार शुरू करने का मौका मिलेगा।

इसी योजना का लाभ पाकर लखनऊ निवासी रिजवान में उम्मीद की एक किरण जगी है। बीते दिन यानी 23 जून को रिजवान को मुख्यमंत्री द्वारा टूलकिट प्रदान की गई है। भारतखबर.कॉम ने रिजवान से उनके सफरनामे पर एक विशेष बातचीत की। पढ़िए इस बातचीत के कुछ अंश…

वीएसएसवाई के लाभार्थी लखनऊ निवासी रिजवान से भारतखबर.कॉम की विशेष बातचीत

साथियों एवं रिश्तेदारों के माध्यम से मिली योजना की जानकारी

पेशे से नाई का काम करने वाले रिजवान ने बताया कि इस योजना की जानकारी उन्हें साथियों एवं रिश्तेदारों से मिली जिसके बाद उन्होंने फॉर्म भरा। उन्होंने बताया कि शुरू से ही उनका परिवार नाई का काम करता चला आ रहा है लेकिन इस योजना के तहत मिली ट्रेनिंग से उन्हें काफी कुछ नया सीखने को मिला है।

रिजवान ने बताया कि छह दिनों की ट्रेनिंग में उन्हें नई तकनीकों का इस्तेमाल करना सीखाया गया है। साथ ही ट्रेनिंग सेशन के दौरान उन्हें नए अंदाज़ से काम करना भी सिखाया गया। उन्होंने बताया कि इस ट्रेनिंग सेशन ने उन्हें ताज़ा चलन से जोड़ा है और अब उन्हें नाई का काम करने में पहले से ज्यादा आनंद आ रहा है। उन्होंने बताया कि 23 मार्च से 28 मार्च की ट्रेनिंग में उन्हें नए ट्रेंड को अडॉप्ट करना सिखाया गया है।

सरकार ने ट्रेनिंग सेशन में सब कुछ उपलब्ध कराया

रिजवान का कहना है कि इन छह दिनों की ट्रेनिंग में सरकार द्वारा काम के नए ट्रेंड्स को नए अंदाज़ में सिखाने के साथ ही नई तकनीक के इस्तेमाल से भी रूबरू कराया गया। उन्होंने कहा कि पूरे दिन की ट्रेनिंग का हिस्सा लगभग हजारों की संख्या में लोग रहते थे। इस दौरान खाने की भी व्यवस्था अधिकारीयों द्वारा कराई जाती थी।

मुख्यमंत्री द्वारा मिला प्रोत्साहन

बता दें कि बीते दिन मुख्यमंत्री द्वारा रिजवान को नाई के काम में मदद करने वाले उपकरणों की एक टूलकिट मिली है। इस दौरान उन्हें मुख्यमंत्री द्वारा प्रोत्साहित भी किया गया। रिजवान ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा मुहैया कराए गया टूलकिट उनके लिए एक उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि परिवार द्वारा भी मुझे काफी प्रोत्साहन मिला। रिजवान का कहना है कि अपने इस व्यवसाय के माध्यम से वे और लोगों को रोज़गार देने की इच्छा रखते हैं। उन्होंने बताया है कि वर्तमान समय में उनके माध्यम से एक व्यक्ति को रोज़गार दिया गया है।

भविष्य की योजनाओं भी डाला प्रकाश

टूलकिट के बारे में उन्होंने बताया कि लॉकडाउन में काम भी ठप था और औजार भी पुराने हो गए थे लेकिन इस टूलकिट में नए औजार मिले हैं। इस टूलकिट में एक ट्रीमर, हेयर ड्रायर, फेस मसाजर, कैंची आदि जैसे उपकरण मिले हैं। उन्होंने बताया कि इस नई टूलकिट के माध्यम से व्यापार को नई गति भी मिलेगी और हम व्यवसाय को अपडेट कर सकेंगे।

उन्होंने बताया कि, इस योजना से उम्मीद की एक नई किरण जगी है और सरकार की मदद से अब हम व्यापार और व्यवसाय को एक नई गति देंगे। मुख्यमंत्री ने हमारे बारे में सोचा, हमें सपने देखने के काबिल बनाया, हम जैसे छोटे व्यापारियों के व्यापार को बढ़ावा देने के लिए योजनाएं लाएं, इसके लिए उनका धन्यवाद।’ उन्होंने कहा है कि भविष्य में मैं अपने काम को नई तरह से अपग्रेड करने के लिए काम करूंगा।

Related posts

राहुल-प्रियंका सीएम नहीं, पीएम पद के उम्मीदवार: कांग्रेस

bharatkhabar

होली के रंगों का आध्यात्मिक महत्व

kumari ashu

IPL: सुपर संडे में डबल धमाका, RCB के सामने होंगे नाइट राइडर्स

pratiyush chaubey