featured यूपी

स्क्रीन रिकॉर्डिंग का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहीं धोखेबाज हसीनाएं

स्क्रीन रिकॉर्डिंग का वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहीं धोखेबाज हसीनाएं

Kumar Vinay With Shravan Kumar Tiwari

लखनऊः अगर आप सोशल मीडिया पर किसी अंजान लड़की से बातचीत कर रहे हैं, तो ज़रा सावधान हो जाइए। छोटी सी गलती आपको सलाखों के पीछे पहुंचा सकती है या फिर समझौते के नाम आपको मोटी रकम भी चुकानी पड़ सकती है। जी हां, कोरोना काल में कई लोग धोखेबाज हसीनाओं के जाल में फंसकर मुश्त रकम गवां चुके हैं, लेकिन बदनामी के डर से पीड़ित पुलिस की मदद लेने से हिचकिचाते हैं।

First Friendship On Social Media Then Fraud By Video Call - online frod : सोशल मीडिया पर पहले दोस्ती फिर वीडियो कॉल से जालसाझी, कर रहे ब्लैकमेल | Patrika News

सबसे बड़ी है यह भूल

दरअसल, देशव्यापी लॉकडाउन के बाद से सोशल मीडिया के साइड इफेक्ट दिखाई दे रहें हैं। इंटरनेट पर साइबर ठगों के बाद धोखेबाज हसीनाओं ने अपने गैंग का नेटवर्क तेजी से फैला दिया है। यह खूबसूरत हसीनाएं फेसबुक पर लड़कों से दोस्ती करती हैं। फिर उनका मोबाइल नंबर लेकर व्हाट्सअप या फिर मैसेंजर पर बातचीत शुरु कर उन्हें फरेब के बिछाए हुए जाल में इस कदर फंसा लेती हैं। जिसके बाद वह अश्लील बातें और आपका आपत्तिजनक वीडियो को रिकॉर्ड कर अपने पास महफूज़ कर लेती हैं। इसके बाद यह हसीनाएं उस वीडियो को आपके पास भेजकर ब्लैकमेल करना शुरु कर देती है। गैंग के सदस्य खुद को वकील और पुलिसकर्मी बताकर आपको परेशान करना शुरू कर देते हैं। जिसमें वह मुकदमा दर्ज करने और जेल भेजने की बात करते हैं। ऐसे में पीड़ित अपनी बदनामी के डर से ठगों को मुंह मांगी रकम देते हैं। असल में इतनी जल्दी इसके पीछे की कहानी को लोग समझ नहीं पाते हैं। यही उनकी सबसे बड़ी भूल होती है। यह कोई हसीनाएं नहीं बल्कि लोगों से ठगी करने वाला गिरोह हसीनाओं के स्क्रीन रिकॉर्डिंग का वीडियो का इस्तेमाल करता हैं।

सावधान! ऑनलाइन दोस्ती के बाद करती हैं 'न्यूड' वीडियो कॉल, फिर धमकी देकर पैसे ऐंठती हैं 'फ्रॉड' लड़कियां - समय साक्ष्य

वीडियो कॉल रिसीव करते ही शुरू हो जाती है हरकतें

ऐसा नहीं कि जो इन हसीनाओं से बात कर रहे हो वहीं इनके जाल में फंस जाए। बल्कि जो लोग इन सब चीजों से दूर रहते हैं वह भी इन हसीनाओं का शिकार हो जाते हैं। यह गिरोह लोगों को अपनी तरफ रिझाने के लिए मैंसेजर पर वीडियो कॉल करता है। कॉल रिसीव करते ही यह हसीनाएं वीडियो कॉल पर कपड़े उतारने लगती हैं। जब तक युवक कुछ समझता है तो 5 या 10 सेकेंड बाद कॉल कट हो जाती है। इसके बाद युवक इन हसीनोओं के पीछे दौड़ने लगता है।

उत्तराखंड: फेसबुक पर दोस्ती, व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल, कुछ इस तरह युवती ने ठग लिए हजारों रुपए - Haldwani Live

साइबर सेल पर की गई शिकायत

राजधानी लखनऊ में दो महीना पहले एक टीवी चैनल के पत्रकार को इन हसीनाओं ने फंसा लिया था। इसके बाद गिरोह ने पत्रकार का अश्लील वीडियो तैयार कर पैसे की डिमांड शुरु कर दी थी। जब तक वह कुछ समझ पाता तो गैंग के सदस्य उसके वीडियो इंटरनेट पर अपलोड़ करने के अलावा थाने में शिकायत करने की धमकी देने लगा। इसके बाद पीड़ित ने साइबर सेल यूनिट में शिकायत की थी।

सावधान! व्हाट्सएप और FB नहीं है सेफ, अश्लील वीडियो कॉल से किया जा रहा ब्लैकमेल - Meerut online cyber crime fraud blackmails through WhatsApp and facebook messenger with recorded objectionable ...

इनसे बचना ही सुरक्षित है

इस मामले को लेकर भारत खबर ने साइबर सेल यूनिट के एसीपी विवके रंजन से बातचीत की तो उन्होने बताया कि सोशल मीडिया इस तरह के तमाम अपराध हुए हैं। जिसमें कुछ लोग तो शिकायत करते हैं, तो कुछ बदनामी के डर से शातिर गिरोह को चुपचाप पैसा देकर बैठ जाते हैं। बताया कि इनसे बचना ही सुरक्षित रहना है। फेसबुक पर अंजान लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार न करें। इसके अलावा मैसेंजर पर बातचीत करने के दौरान अपना मोबाइल नंबर शेयर मत करें।

Related posts

व्यावसायिक जहाज से टकराया अमेरिकी युद्धपोत, 7 क्रू सदस्य गायब

Pradeep sharma

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में एबीवीपी का धमाल, 8 साल बाद सभी सीटों पर जीत पाई ABVP

mahesh yadav

Dhanteras 2021: धनतेरस पर फिर से सोने- चांदी की कीमतों में उछाल, यहां जाने रेट

Rahul