Breaking News यूपी

एलयू के छात्रनेता व घोसी लोकसभा से चुनाव लड़ चुके संजय सिंह कांग्रेस में शामिल

WhatsApp Image 2021 08 17 at 4.46.08 PM एलयू के छात्रनेता व घोसी लोकसभा से चुनाव लड़ चुके संजय सिंह कांग्रेस में शामिल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चुनावी रण को जीतने की तैयारी कर रही कांग्रेस को पूर्वांचल से एक मजबूत चेहरा मिल गया है। लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्रनेता रहे संजय सिंह ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है। गौरतलब है कि संजय सिंह मऊ की घोसी लोकसभा सीट से निर्दलीय के रूप में चुनाव भी लड़ चुके हैं। साथ ही अपने आंदोलनों के लिए वे जाने जाते हैं। इतना ही नहीं युवाओं के बीच उनकी पैठ भी काफी मजबूत मानी जाती है।

संजय सिंह ने मंगलवार को यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के सामने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने का प्रण लिया। संजय सिंह ने कहा कि यूपी में इस बार प्रियंका गांधी के नेतृत्व में हम सरकार बनाएंगे। जनता के मुद्दों पर सबसे ज्यादा मुखर इस समय कांग्रेस ही है।

युवाओं की पहली पसंद है कांग्रेस: संजय सिंह

संजय सिंह ने कांग्रेस में शामिल होने के बाद कहा कि एक लंबे समय तक उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय की राजनीति की है। युवाओं के बीच वो काफी लंबे समय से काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि युवा सपा, बसपा, भाजपा की सरकारों को देख चुके हैं। उन्हें पता है कि उनके हक की आवाज उठाने वाला कोई नहीं हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस युवाओं की पहली पसंद बन चुकी है। क्योंकि इसका नेतृत्व राहुल गांधी जैसे दूरदर्शी नेता के हाथों में हैं। प्रियंका गांधी की लोकप्रियता और उनकी स्वीकार्यता किसी से छिपी नहीं है।

संजय सिंह ने कहा कि युवाओं के मुद्दों पर कांग्रेस ने सड़क से लेकर सदन तक आवाज उठाई है। प्रदेश में बेरोजगारी का मुद्दा सबसे पहले कांग्रेस ने उठाया है। उन्होंने कहा कि शिक्षक और पुलिस भर्ती के अभ्यर्थियों के साथ योगी की सरकार ने किस प्रकार दुर्व्यवहार किया है, उससे पूरे प्रदेश की जनता वाकिफ है। उन्होंने कहा कि हम युवाओं के मुद्दे ही हमारे मुद्दे हैं।

पार्टी नेतृत्व का आदेश सर्वोपरि

संजय सिंह ने चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि जो पार्टी नेतृत्व तय करेगा, वही करेंगे। उन्होंने कहा कि यूपी के विकास खासकर पूर्वांचल की आवाज उठाएंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रति जनाधार लगातार बढ़ रहा है। बीजेपी की विदाई तय है। कांग्रेस इस बार यूपी में सरकार बनाएगी।

Related posts

चुनावी रंजिया के चलते घर में घुस कर महिला की पिटाई

Rahul srivastava

रेलवे ने यात्रियों को दी राहत, अब मिलेगा गरमागरम ताजा खाना, कोरोना के चलते लगी थी रोक

Samar Khan

… तो क्या पुणे का इंजीनियर बनेगा कांग्रेस का अध्यक्ष?

bharatkhabar