Live-आसाराम पर बड़ी खबर जोधपुर से

जोधपुर। जेल में बंद संत आसाराम के मामले में बड़ी खबर आई है। इस मामले को लेकर जज ने सुनवाई शुरू कर दी है। आसाराम को फैसला सुनाने के लिए जेल में बनी कोर्ट में पहुंचे जज मधुसूदन शर्मा। साल 2013 से ही जेल में बंद है आसाराम बापू। साल 2013 में उनके ही गुरूकुल में पढ़ने वाली छात्रा ने लगाया था बलात्कार का आरोप। इसके बाद से आसाराम जेल की सलाखों के पीछे चल रहे हैं। इस मामले में पॉस्को एक्ट भी लगा हुआ है। इस मामले से जुड़े 11 लोगों के अलावा कोई नहीं होगा जेल कोर्ट में। पीड़िता वकील समेत पहुंची जेल कोर्ट में पहुंची।

इस मामले की गंभीरता को देखते हुए राजस्थान गुजरात और हरियाणा में आसाराम को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। पंचकूला जैसे हालात जोधपुर में ना दोहराए जाएं इसके लिए पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। फोर्स लगातार मार्च कर रही है। बीते एक हफ्ते से ही जोधपुर में लोगों को आने नहीं दिया जा रहा है। इसके साथ ही मीडिया ने इस प्रकरण का जेल से कवरेज करने के लिए अपनी अपील की थी जिससे खारिज कर दिया गया है। जेल परिसर के बाहर पुलिस की चॉक चौबंद व्यवस्था की गई है। पूरे परिसर में खुद उच्चाधिकारी लगातार मौजूद हैं।

सूत्रों की माने तो जोधपुर को इस वक्त छावनी में तब्दील कर दिया गया है। माना जा रहा है कि इस फैसले के बाद आसाराम की मुश्किलें खत्म नहीं होने वाली हैं। अगर आज आसाराम की किस्मत साथ देती है तो भी जेल में ही रहना होगा। क्योंकि अहमदाबाद में दो बहनों के रेप का मामला भी चल रहा है। साल 2013 से आशाराम ने कई बार इस सलाखों से बाहर आने की पुरजोर कोशिश की है। रामजेठमलानी, सुब्रह्मण्यम स्वामी, लूथरा एंड संस, टी एस तुलसी सरीखे बड़े वकीलों ने इस मामले में पैरवी भी की है। लेकिन आसाराम को जेल के बाहर कोई नहीं ला पाया है। इस प्रकरण को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह से चॉक-चौबंद हैं। जोधपुर में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। लगातार पुलिस मार्च कर रही है।