August 15, 2022 12:05 am
Breaking News यूपी

एलडीए ने अवैध निर्माण रोकने के लिए बनाया मास्टर प्लान

LDA एलडीए ने अवैध निर्माण रोकने के लिए बनाया मास्टर प्लान

लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) के उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी द्वारा मंगलवार को प्रवर्तन विभाग से सम्बन्धित विहित प्राधिकारियों तथा अधिशासी अभियन्ताओं के साथ समीक्षा बैठक की गई। बैठक में उन्होंने अवैध निर्माणों को रोकने के सम्बन्ध में की जा कार्यवाही को और अधिक प्रभावी बनाने के निर्देश दिये। वहीं उनके द्वारा समस्त अधिशासी अभियन्ताओं को सीलिंग तथा ध्वस्तीकरण की जानकारी देने के सम्बन्ध में फार्मेट दिया गया। इस फार्मेट पर सभी सूचनाएं अगली बैठक में विहित प्राधिकारी और अधिशासी अभियन्ता के संयुक्त हस्ताक्षर से प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये।

उन्होंने प्रवर्तन से सम्बन्धित एक विभागीय वाट्सअप ग्रुप बनाने के निर्देश दिये। इस ग्रुप पर प्रवर्तन की कार्यवाही से सम्बन्धित सूचनाएं और आदेशों को नियमित रूप से पोस्ट करने के लिए कहा गया। उपाध्यक्ष ने बैठक में कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी के यहाँ से शहर में लगभग 1900 नर्सिंग होम/हॉस्पिटल पंजीकृत हैं। बैठक के दौरान उन्होंने आधिकारियों को इसकी सूची उपलब्ध कराने के साथ निर्देशित किया कि इन सभी नर्सिंग होम, हॉस्पिटल व क्लीनिकों का सर्वे करके यह सुनिश्चित कराये कि स्वीकृत मानचित्र के अनुसार ही मौके पर निर्माण हुआ है अथवा नहीं।

साथ ही यह भी देखें कि इनमें नियमानुसार पार्किंग की जगह छोड़ी गई है अथवा नहीं। इसके अलावा ऐसी कामर्सियल बिल्डिंगें जिसके नक्शे में पार्किंग दिखाई गई किन्तु मौके पर उसका उपयोग हॉल या अन्य रूप में किया जा रहा है, उनके खिलाफ नियमित रूप से कार्यवाही करते हुए उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी ने सीलिंग के लिए तैयार कराये जा रहे सॉफ्टवेयर की भी समीक्षा की। उन्होंने सभी बिन्दुओं को स्पष्ट करते हुए निर्देश दिये कि सचिव की निगरानी में इस सॉफ्टवेयर को फाइनल करके अगली बैठक में रखा जाये, ताकि इसके मुताबिक अवर अभियन्ताओं को इसका प्रशिक्षण दिलाया जा सके।

Related posts

इंडियन ऑयल बोर्ड में पहली महिला फंक्शनल डायरेक्टर सुश्री शुक्ला मिस्त्री ने संभाला पद

Neetu Rajbhar

देश में मेडिकल हब के रूप में जाना जाएगा यूपी, मिलेंगी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं

Shailendra Singh

झारखंड: नक्सलियों ने ट्रैन को किया हाईजैक, ड्राइवरों का अपहरण

bharatkhabar