लालू यादव की बिगड़ी तबीयत पर सियासत-ट्रेन से ले जाया गया

नई दिल्ली। बिहार के चारा घोटला में फंसे पूर्व सीएम लालू यादव पर सियासत गर्माती जा रही हैं। बता दे कि राष्ट्रीय जनता दल की ओर से लालू यादव की बेटी मीसा भारती ने कहा कि लालू प्रसाद यादव पर साजिश रची जा रही हैं बता दे कि लालू के इलाज के लिए जहाज से ना ले जाकर ट्रेन से ले जाने पर मीशा भारती की ओर से सवाल उठाए गए हैं और इसे साजिश करार दिया गया हैं। बता दे कि लालू यादव को उनके इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में लाया जा जा रहा हैं।

लालू यादव को ट्रेन से दिल्ली ले जाने पर कड़ी आपत्ति जताते हुए मीसा भारती ने कहा कि यदि हवाई जहाज से लालू यादव को दिल्ली लाया जाता तो वह कम समय में पहुंच जाते लेकिन उनके बिगड़ रहे स्वास्थ्य को देखते हुए भी उन्हें 18 घंटे से अधिक की यात्रा करा कर दिल्ली लाया गया। मीसा भारती ने कहा कि सरकार ने हवाई यात्रा के लालू यादव के अनुरोध को बदले की भावना के तहत नहीं माना।

इस बीच राजद के सांसद तथा राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि लालू यादव जैसे जन नेता के साथ सरकार कैसा व्यवहार कर रही है, यह जनता भी देख रही है। उन्होंने कहा कि लालू यादव का स्वास्थ्य राजद के लिए सबसे महत्वपूर्ण विषय है। मनोज झा ने कानूनी लड़ाई जीतने का भरोसा जताते हुए कहा कि राजनीतिक लड़ाई भी पार्टी जीतेगी। उन्होंने कहा कि रांची मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भी लालू यादव के स्वास्थ्य पर चिंता प्रकट किया था और उन्हें बेहतर चिकित्सा के लिए दिल्ली ले जाने की सलाह दी थी।

इन सारी बातों को देखते हुए भी सरकार ने एक साजिश के तहत लालू यादव को ट्रेन की लंबी यात्रा करा कर दिल्ली लाया गया। पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ नेता जयप्रकाश यादव ने कहा कि सरकार ने लालू यादव की सेहत का ख्याल नहीं रखा और बीमारी में उन्हें और अधिक परेशान करने के लिए रांची से दिल्ली ट्रेन से लाया गया। उन्होंने कहा कि हवाई जहाज से लालू यादव 2 घंटे में दिल्ली पहुंच सकते थे किंतु उनके जैसे ऊंचे कद के व्यक्तित्व को भी जान-बूझकर इस अवस्था में परेशान किया गया।

उन्होंने कहा कि ऐसी अवस्था में आम व्यक्ति को भी कोई परेशान नहीं करता है लेकिन सरकार लालू यादव को केवल परेशान करने के लिए एक राजनीतिक साजिश के तहत यह सब कर रही है। इस बीच राजद नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि लालू यादव को चारा घोटाला में परेशान किया जा रहा है| एक ही अपराध के लिए उन्हें बार-बार सजा दी जा रही है।