Breaking News featured देश

लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का दिल्ली एम्स में निधन, पीएम नरेंद्र मोदी से जताया शोक

8981fd05 21dc 4156 bdd7 b655923c1640 लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का दिल्ली एम्स में निधन, पीएम नरेंद्र मोदी से जताया शोक

नई दिल्ली। देश की राजनीति में आए दिन कहीं न कहीं से दुखदायी खबर सुनने को मिल रही है। इसी बीच आज भी ऐसी दुखदायी खबर मिली है। लक्षद्वीप के उपराज्यपाल दिनेश्वर शर्मा का निधन हो गया। वे कई दिनों से दिल्ली एम्स में भर्ती थे। वर्तमान में दिनेश्वर शर्मा लक्षद्वीप के 34वें प्रशासक के रूप में सेवारत थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर की मौत पर शोक व्यक्त किया है।

बोधगया बिहार से स्नातक किया था-

बता दें कि दिनेश्वर शर्मा ने मगध विश्वविद्यालय, बोधगया बिहार से स्नातक किया था। इसके साथ ही उनके परिवार में पत्नी मंजू शर्मा, एक बेटा और एक बेटी है। दिनेश्वर शर्मा 1976 बैच के केरल कैडर आईपीएस अधिकारी थे। इसी के साथ उन्होंने जम्मू और कश्मीर राज्य के लिए भारत सरकार के एक वार्ताकार के रूप में काम किया था। दिनेश्वर शर्मा की मौत के बाद पूरे परिवार में मातम छाया हुआ है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा की मौत पर शो व्यक्त किया है। पीएम ने ट्वीट कर कहा कि दिनेश्वर जी ने भारत के पुलिसिंग और सुरक्षा तंत्र में लंबे समय तक योगदान दिया। पीएम ने आगे लिखा कि उन्होंने अपने पुलिसिंग करियर के दौरान कई संवेदनशील काउंटर आतंक और उग्रवाद को संभाला। उनके निधन से दुखी, उनके परिवार के प्रति संवेदना।

1979 में भारतीय पुलिस सेवा में शामिल हुए थे-

जानकारी के अनुसार केरल कैडर आईपीएस अधिकारी दिनेश्वर शर्मा 1979 में भारतीय पुलिस सेवा में शामिल हुए थे। जिसके चलते उन्होंने कई चुनौतीपूर्ण कार्य किए है। पुलिसिंग और आतंकवाद का मुकाबला करने के क्षेत्र में समृद्ध अनुभव किया है। भारतीय पुलिस सेवा में शामिल होने के बाद दिनेश्वर शर्मा को शुरूआत में केरल के पालघाट में सहायक पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात किया गया था।

Related posts

संभल: रोडवेज की लाइट खराब होने से भीषण सड़क हादसा, तीन लोगों की दर्दनाक मौत

Shailendra Singh

बाढ़ में डूब राजस्थान, बारिश की तबाही आपके होश उड़ा देगी..

Rozy Ali

दिल्ली में गिरा रविदास मंदिर तो कांगेस बोली मोदी सरकार दलित विरोधी है

bharatkhabar