featured यूपी

यूपी के इन स्कूलों में शिक्षकों की है कमी, 5000 से ज्यादा पद खाली

यूपी के इन स्कूलों में शिक्षकों की है कमी, 5000 से ज्यादा पद खाली

लखनऊ: 1 जुलाई से प्रदेश के सभी स्कूल खोल दिए गए, हालांकि बच्चों का अभी भी विद्यालय में जाना प्रतिबंधित है। लेकिन अन्य कामकाज के लिए शिक्षक वहां उपस्थित रहेंगे। यूपी में अगर शिक्षकों की बात करें तो कई ऐसे स्कूल हैं, जहां शिक्षकों की भारी कमी देखने को मिल रही है। एक आंकड़े के अनुसार 5000 से ज्यादा सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी है।

2,000 से अधिक विद्यालयों में खाली पद

अकेले अगर उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां 1108 बालक और 1186 बालिकाओं के राजकीय माध्यमिक विद्यालय जिनमें शिक्षकों की कमी देखने को मिल रही है। यहां 5000 से अधिक शिक्षकों के पद खाली हैं, जिनकी भर्ती की जानी है। इसके साथ ही प्रधानाचार्य, उपप्रधानाचार्य, सहायक अध्यापक, प्रवक्ता के पद भी रिक्त हैं।

19 सितंबर को 1473 पदों के लिए होगी परीक्षा

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा प्रवक्ता के 1473 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इससे जुड़े आवेदन में 500000 से अधिक अभ्यर्थियों ने अपनी किस्मत आजमाई है। प्रवक्ता पद के लिए लिखित परीक्षा आने वाले 19 सितंबर को होनी है।

अब शिक्षकों के रिक्त पद भरे जाने की मांग भी उठने लगी है। सामाजिक विज्ञान और हिंदी जैसे विषय के अध्यापक नहीं हैं। माध्यमिक शिक्षा विभाग से लगातार अभ्यर्थी भर्ती को शुरू करने की मांग कर रहे हैं, इसका फायदा प्रदेश के योग्य युवाओं को होगा।

Related posts

रामगोपाल यादव ने किया यूपी में सपा की जीत का दावा

kumari ashu

Corona Vaccination: दूसरी डोज़ के लिए शनिवार आरक्षित

Shailendra Singh

महाकुंभ 2021: दो लाख अतिरिक्त वैक्सीन मंगाएगी उत्तराखंड सरकार, केंद्र ने जारी की गाइडलाइंस

Aman Sharma