हरिद्वार कुंभ

लखनऊ। हरिद्वार कुंभ में 11 मार्च शिवरात्रि के मौके पर होने जा रहे शाही स्नान में शामिल होने वाले साधु संतों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। शाही स्नान से एक महीने पहले ही हरिद्धार प्रशासन ने इसकी तैयारी शुरू की दी है। दूसरी तरफ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर खास दिशा निर्देश जारी किए हैं।
haridwar-kumbh
कुंभ में शामिल होने वाले साधु संतों को लेकर हरिद्वार प्रशासन ने सतर्कता बरतनी शुरू कर दी है। प्रयागराज समेत तमाम जिलों को पत्र भेजकर कुंभ में आने वाले साधु संतों का ब्यौरा मांगा गया है। ब्यौरा जुटाने के बाद कुंभ प्रशासन साधु संतों को घर जाकर कोरोना की वैक्सीन लगाएगा। बताया जा रहा है कि कुंभ मेला प्रशासन उन्हीं लोगों को मेला क्षेत्र में प्रवेश देगा जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन लगा ली है। वैक्सीन न लगाने वालों को मेला क्षेत्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कुंभ मेले के लिए साधु संत बसंत पंचमी के बाद हरिद्धार रवाना होना शुरू हो जाएंगे।

सीएम योगी ने अफसरों से कहा-टीकाकरण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश में कोविड-19 के टीकाकरण की कार्यवाही भारत सरकार की गाइडलाइन्स एवं क्रम के अनुरूप संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि टीकाकरण अभियान की प्रत्येक कार्यवाही केन्द्र द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुरूप सम्पन्न की जाए। उन्होंने टीकाकरण के आगामी चरण के लिए सभी व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।
yogi adityanath 1 हरिद्वार कुंभ: शाही  स्नान में शामिल होने वाले साधु-संतों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, सीएम योगी ने भी दिए ये खास दिशा-निर्देश
मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक मे अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए किये गए प्रभावी उपायों के परिणामस्वरूप इस महामारी को प्रदेश में नियंत्रित करने में सफलता मिली। उन्होंने नियंत्रण की इस दर को बनाए रखते हुए आने वाले समय में भी कोविड-19 से बचाव तथा उपचार के बेहतर प्रबन्ध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण की दर में उल्लेखनीय गिरावट के बावजूद अभी कोविड-19 समाप्त नहीं हुआ है। इसके दृष्टिगत प्रत्येक स्तर पर पूरी सावधानी बरती जाए। कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए। मेडिकल टेस्टिंग, सर्विलांस सिस्टम तथा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग को सक्रियता से संचालित किया जाए। उन्होंने कोविड चिकित्सालयों में उपचार की प्रभावी व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार जनता को उच्चस्तरीय चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्पित है। इसके दृष्टिगत नवीन मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की कार्यवाही प्रभावी ढंग से आगे बढ़ाया जाए। उन्होंने मेडिकल कॉलेज विहीन 16 जनपदों में मेडिकल कॉलेज की स्थापना के लिए पूरी सक्रियता से कार्य किए जाने के निर्देश दिए।

यूपी न्यूज: योगी सरकार की इस ‘प्रेरणा’ से गांव के बच्चे बनेंगे काबिल, शिक्षकों को करना होगा यह खास काम

Previous article

नौकरियों को लेकर बड़ा बदलाव कर सकती है केंद्र सरकार, सिर्फ 4 दिन करना होगा काम! जानें इसके बारे में

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured