September 26, 2021 12:13 am
featured भारत खबर विशेष

कोरोना से मरने वालों की लाश के साथ क्या किया जाता है, जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

लाश कोरोना से मरने वालों की लाश के साथ क्या किया जाता है, जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

नई दिल्ली। कभी जिन देशों और शहरों में लोगों का तांता लगा होता था। आज उन शहरों और देशों में एक चीज देखने को मिलती है और वो है सन्नाटा और सभी देशों में इस सन्नाटे की सिर्फ एक ही वजह है कोरोना वायरस ,जिसकी वजह से देश की खूबसूरती कम हो गई है सड़कें खाली हैं और गलियां सूनी है। इस वायरस ने हर देश की खूबसूरती को छीन लिया है।

लाश.jpg2 कोरोना से मरने वालों की लाश के साथ क्या किया जाता है, जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

बता दें की सभी देशों में इस वायरस के चलते संक्रमण के साथ-साथ मौतों का भी आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। कुछ देशों के हालात तो इतने खराब हैं कि लाशों का अंतिम संस्कार भी देरी से किया जा रहा है। हालात इतने खराब है कि कोरोना से मरने वालों को कोई कंधा देने को भी तैयार नहीं है। ये उन लोगों के साथ हो रहा है जो कभी भरे पूरे परिवार के साथ रहते थे लेकिन जब इनकी मौत हुई तो लावारिस हो गए, कि इनकी लाश उठाने को भी कोई तैयार नहीं है। 

लाश.jpg2 .jpg 3 कोरोना से मरने वालों की लाश के साथ क्या किया जाता है, जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

इस वायरस के चलते सभी से ये अधिकार छीन गया है कि वो अपने चाहने वालों को कंधा दे सके, और उनको अंतिम विदाई दे सके। इस वायरस ने मरने वाले को अंतिम वक्त में दिए जाने वाला सम्मान तक छीन लिया है। इस वायरस से मरने वालों की मौत एक बार नहीं बल्कि दो बार होती है। एक बार जब वो अपने परिवार और चाहने वालों से अलग होते हैं और दूसरी मौत तब जब आप  इस बीमारी का शिकार होकर मर जाते हैं और आपको कोई अपना अंतिम विदाई तक देने वाला नहीं होता। 

लाश.jpg2 .jpg 3.jpg 4 कोरोना से मरने वालों की लाश के साथ क्या किया जाता है, जानकर आपके होश उड़ जाएंगे

इस बीमारी से मरने वालों का अंतिम संस्कार भी बड़े अजीबों गरीब तरीके से किया जाता है। इस बीमारी से मरने वाले लोगों का अंतिम संस्कार उनके पसंदीदा कपड़ों या कफ़न के साथ नहीं किया जाता, बल्कि जो गाउन अस्पताल में इलाज के दौरान पहनने को दिया जाता है उसी को कफ़न बनाकर उनको दफ़ना दिया जाता है। कुछ देशों में तो इस बीमारी से इतने बुरे हालात हैं कि वहां मरने वालों की संख्या हजारों में पहुंच गई है। और संक्रमित लोगों का आंकड़ा लाखों में , इस बीमारी से सबसे ज्यादा अमेरिका ,इटली, और चीन के हालात खराब हैं। जहां मरने वालों का आंकड़ा पूरी दुनिया से ज्यादा है।

Related posts

भोजपुरी सुपरस्टार निरहुआ भाजपा मे शामिल, अखिलेश से होगा मुकाबला

bharatkhabar

2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए यूपी में राजनीतिक दलों ने तेज की तैयारियों की रफ्तार

Rani Naqvi

राजू श्रीवास्तव ने किया कायस्थ संघ के सदस्यता अभियान का शुभारंभ

Shailendra Singh