September 25, 2022 6:23 am
featured राजस्थान

जाने कैसे राजस्थान में लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फंसे लोगों की मजबूरी का फायदा उठा रहे निजी बस संचालक

राजस्थान 2 जाने कैसे राजस्थान में लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फंसे लोगों की मजबूरी का फायदा उठा रहे निजी बस संचालक

भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर में लॉकडाउन के चलते सड़कों पर फंसे लोगों की मजबूरी का फायदा कुछ निजी बस संचालक उठा रहे हैं। दरअसल,राजस्थान सरकार के आदेश के बाद लॉकडाउन में फंसे लोगों को सरकारी बसों द्वारा उत्तर प्रदेश बॉर्डर तक छोड़ा जा रहा है। सरकार ने सिर्फ रोडवेड की बसों को परमिशन दी है। मगर इससे उलट कुछ निजी बस संचालक भी लोगों को अवैध रूप से बसों में भरकर ले जा रहे हैं। साथ ही लोगों से मनचाहा किराया वसूल कर रहे हैं। 

बता दें कि जिला प्रशासन द्वारा अभी तक करीब कई हजार लोगों को बॉर्डर पार करवाया गया है बाकी हजारों लोग अभी भी सडकों पर पलायन करते हुए नजर आ रहे है | राज्य सरकार के आदेश के बाद रोडवेज की कुछ बसों को पलायन करने वाले लोगों को बॉर्डर पर छोड़ने के लिए अधिकृत किया है। लेकिन कुछ निजी बस वाले भी लोगों को बस के अंदर और छतों पर जानवरों की तरह लादकर बॉर्डर पार करवाने में लगे हैं। निजी बंस संचालक मजबूर लोगों से मनचाहा किराया वसूलने में लगे हैं।

दर्द को ताकत बनाकर चल रहे हैं लोग

राजस्थान सरकार की ओर से सड़कों पर ठहरे लोगों को बसों में लादकर उत्तर प्रदेश के आगरा और मथुरा बॉर्डर पर छोड़ा जा रहा है | मगर अब भी अधिकांश लोग सड़कों पर ही फंसे हुए है। यह लोग पैदल चलकर बॉर्डर पार करने की जुगत में लगे हुए हैं। इन लोगों का कहना है कि सरकारी बसों में काफी भीड़ है। ऐसे में घंटों बसों का इंतजार करना पड़ रहा है। वहीं कुछ लोगों ने बताया निजी बस संचालक सामान्य से 5 गुना अधिक किराया मांग रहे हैं, जो देना संभव नहीं है। मजबूरीवश दर्द को ताकत बनाकर पैदल ही यात्रा शुरू कर दी है।

Related posts

पंजाब, हरियाणा में ठंड का कहर बरकरार, चंडीगढ़ में तापमान 1 डिग्री कम होकर 4.8 डिग्री पर पहुंचा

Trinath Mishra

दिल्ली में थमी गाड़ियों की रफ्तार, ऑफिस पहुंचने में लोगों को हुई देरी

shipra saxena

अजमेर का पुलिस तंत्र हुआ विफल: कांग्रेस

Rani Naqvi