कैसे आमिर बनें मिस्टर परफैक्शनिस्ट!

नई दिल्ली। बॉलीवुड में मिस्टर परफैक्शनिस्ट के नाम से जाने जाने वाले आमिर खान का जन्मदिन 14 मार्च को होता है। आमिर खान सिर्फ बॉलिवुड के एक बढ़े एक्टर ही नहीं बल्कि एक निर्माता और निर्देशक भी है। खान ने हमेशा अपनी फिल्मों में कोई ना कोई ऐसा किरदार निभाया है जिससे उनके फैन्स हमेशा उनकी नई फिल्म का बेसब्री से इंतजार करते है। साथ ही लोगो में इस बात का क्रेज रहता है कि इस बार आमिर अपनी फिल्म से कौन सा मैसेज सबको देने वाले है। या उनकी आने वाली फिल्म में क्या खासियत होगी।

 

आमिर का बचपन

आमिर खान यानी मौहम्मद आमिर हुसैन खान का जन्म 14 मार्च 1965 में मुंबई में हुआ था। आमिर के पिता का नाम ताहिर हुसैन है और मां का नाम जीनत हुसैन है। आमिर के काफी सारे रिश्तेदार उस समय से ही फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े हुए थे। यूं तो आमिर ने अपने बचपन में ही दो भूमिका में परदे पर आये थे। 8 साल की आयु में, नासिर हुसैन के निर्देशन वाली म्यूजिकल फिल्म यादो की बारात (1973) में उन्होंने अभिनय किया था। उसी साल उन्होंने अपने पिता द्वारा निर्मित मदहोश में भी भुमिका अदा की थी।

फिल्मी जीवन

यूं तो आमिर ने 1984 में केतन मेहता की फिल्म होली से अपना डेब्यू किया था। लेकिन यह फिल्म कुछ खास नहीं चली और आमिर इससे लोगों के बीच अपनी पहचान बनाने में नाकाम्याब रहे थे। इसके बाद खान 1988 में फिल्म कयामत से कयामत तक में मुख्य भूमिका में दिखे। इस फिल्म का निर्देशन उनके भतीजे मंसूर खान ने किया था। आमिर की यह फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर काफी हिट रही और इससे आमिर के फिल्मी करियर को एक नई दिशा मिली। इस फिल्म के बाद आमिर की 80 से 90 के दशक में बहुत सी फिल्में आई और लगभग सभी फिल्मों ने बड़े पर्दे पर अच्छा प्रदर्शन किया था।

अवॉर्डस

आमिर खान ने फिल्म कयामत से कमायत तक के लिए बेस्ट मेल डेब्यू का फिल्म फेयर अवॉर्ड अपने नाम किया था। राजा हिंदुस्तानी के लिए आमिर का बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था। फिल्म लगान के लिए आमिर को बेस्ट एक्टर और बेस्ट फिल्म के अवॉर्ड से नवाजा गया। इसके बाद आमिर ने बहुत से अवॉर्डस अपने नाम किए।

आमिर खान प्रोडक्शन

आमिर ने अपने प्रोडक्शन हाउस की शुरुआत 2001 में फिल्म लगान से की। आमिर ने इस फिल्म मे मुख्य किरदार निभाया था और इस फिल्म ने कई सारे अवॉर्डस अपने नाम किए थे। इसके बाद 2007 में आमिर ने फिल्म तारे जमीं पर का निर्देशन किया था। आमिर के निर्देशन में बनी इस फिल्म ने फिल्म फेयर में बैस्ट मूवी का अवॉर्ड अपने नाम किया। इसके बाद आमिन ने अपने भतीजे इमरान खान को बतौर एक्टर लेते हुए जाने तू या जाने ना मूवी और मूवी धोबी घाट जैसी और भी बहुत सी मूवीज का निर्देशन किया है।