featured यूपी

जानिए कैसे महिला पुलिसकर्मी कल्पना की ममता ने बदली चार नाबालिगों की जिंदगी

जानिए कैसे महिला पुलिसकर्मी की ममता ने बदली चार नाबालिगों की जिंदगी

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश में महिला पुलिस की मानवता के चर्चे खूब हो रहे हैं। फतेहपुर जिले की महिला पुलिसकर्मी कल्पना की ममता ने सभी का दिल जीत लिया।

चार नाबालिग बच्चों को पहुंचाया अस्पताल

ड्यूटी के दौरान फतेहपुर जिले की महिला पुलिसकर्मी कल्पना को शादीपुर नाके के पास चार नाबालिग बच्चे दिखाई दिए। उनमें से एक की हालत काफी खराब दिख रही थी। वह एक इंजन के नीचे दबा हुआ था, सबसे पहले उसको निकालकर बाहर किया गया। वह काफी घायल भी हो चुका था।

लोगों की मदद से पहुंचाया अस्पताल

कल्पना ने तुरंत एवं सभी बच्चों को अस्पताल पहुंचाया कर उनका इलाज करवाने का जिम्मा उठाया। इसके साथ ही उन्होंने चाइल्ड हेल्प लाइन 1098 से भी मदद ली। मौके पर पहुंचकर काउंसलर माया देवी ने बच्चों के हाल-चाल को जाना। यहां बच्चों का इलाज किया जा रहा है, चाइल्ड हेल्पलाइन के पास छोड़कर कल्पना दोबारा अपने काम पर वापिस आ गई।

चारों बच्चे हैं नाबालिग

लक्ष्मणपुर, थाना गाजीपुर के निवासी सभी बच्चे अब सुरक्षित हैं। उम्र में छोटे छोटे बच्चे नाबालिक हैं, जिनके नाम सरवन, बलबीर, करण और संजय हैं। चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम ने पहुंचकर जिला अस्पताल में बच्चों की देखभाल की। नाबालिग बच्चों का इस तरह सड़क पर पाया जाना कई सवाल खड़े करता है।

Related posts

Aaj Ka Panchang में देखें राहु व नक्षत्र का योग

Aditya Gupta

बासु चटर्जी का हुआ निधन, ‘छोटी सी बात’ और ‘रजनीगंधा’ जैसी बेहतरीन फिल्मों के लिए जाने थे

Rani Naqvi

ब्रिक्स सम्मेलन में पीएम मोदी ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा, आगे कहा- कोविड के बाद की वैश्विक रिकवरी में ब्रिक्स इकोनॉमी की होगी अहम भूमिका

Trinath Mishra