खलील अहमद ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टी-20 मैच जीतने के राज से उठाया पर्दा

खलील अहमद ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टी-20 मैच जीतने के राज से उठाया पर्दा

नई दिल्ली। भारत के युवा गेंदबाज खलील अहमद ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टी-20 मैच जीतने के बाद इस राज से पर्दा उठाया कि क्यों टीम इंडिया इस मैच को जीत सकी है। मैच के बाद खलील ने कहा कि दूसरे टी-20 इंटरनेशनल मैच के लिए तेज गेंदबाजों को शॉर्ट गेंद फेंकने का निर्देश मिला था, जिससे बल्लेबाजों को बाउंड्री लगाने से रोका जा सके। भारतीय टीम ने इस मैच को सात विकेट से जीतकर तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर की। पहले टी-20 में 50 रन से अधिक लुटाने वाले खलील ने इस मैच में 29 रन खर्च करके दो विकेट चटकाए। भारतीय टीम के खिलाफ पहले मैच में 14 चौके और आठ छक्के लगे थे लेकिन दूसरे मैच में टीम ने न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को सिर्फ आठ चौके और छह छक्के लगाने दिए।

बाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज से बाउंड्री रोके जाने की योजना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ”मैदान काफी छोटा था इसलिए हमने जानबूझ कर शॉर्ट गेंदें फेंकी ताकि बल्लेबाजों को बड़ा शाट खेलने से रोका जा सके। खलील ने कहा कि कप्तान रोहित शर्मा ने मैदान (ईडन पार्क) के आकार को लेकर बताया था कि इस मैदान का आयाम दूसरे मैदानों से बिलकुल अलग है। आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले इस गेंदबाज ने कहा, ”रोहित भाई ने हमें बताया था कि बल्लेबाज किस दिशा की ओर ज्यादा शॉट खेलने की कोशिश करेंगे और कैसे उन्हें रोका जाए।

सीरीज का अंतिम मैच हैमिल्टन में खेला जाएगा, जहां भारतीय टीम चौथे वनडे में महज 92 रन पर आउट हो गई थी। खलील को हालांकि लगता है कि रविवार को अंतिम टी-20 में टीम अलग तरह का प्रदर्शन करेगी। बता दें कि सीरीज का आखिरी और निर्णायक मैच रविवार (10 फरवरी) को हैमिल्टन के सीडेन पार्क पर खेला जाएगा। उन्होंने कहा, ” हमने हैमिल्टन में खेला और अब हमें वहां के हालात के बारे में पता है। इसके अलावा दूसरे टी-20 को जीतने के बाद अंतिम मैच के लिए हमारा आत्मविश्वास ज्यादा होगा। हमने पहले मैच में की गयी गलतियों में सुधार किया है।