कोरोना की जांच
उत्तराखंड में सस्ते में होगी कोरोना की जांच

लखनऊ: राजधानी में कोरोना जांच की प्रक्रिया को और तेजी से बढ़ाने के लिए केजीएमयू की तरफ से एक पहल की गई है। यहां के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में जांच की क्षमता को दोगुना करने पर जोर दिया जा रहा है।

हर दिन 15 हजार की होगी जांच

मिली जानकारी के अनुसार हर दिन 15000 नमूनों की जांच आसानी से हो जाएगी। इसी बारे में चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव ने अधिक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अपग्रेडेड कोविड-19 टेस्टिंग लैब का लोकार्पण हो गया है, इसका उद्घाटन ग्राउंड हॉल में किया गया। मौजूदा समय में जहां केजीएमयू में 6000 से 8000 लोगों की जांच हो रही है, वहीं आने वाले समय में इसे बढ़ाकर ₹15000 कर दिया जाएगा।

बढ़ी RT-PCR मशीन की संख्या

कोरोना की जांच करने के लिए RT-PCR की तकनीक सबसे कारगर होती है। अभी तक विभाग में सिर्फ चार मशीनें उपलब्ध थी, अब 3 और ऐसी मशीन बढ़ाई जा रही हैं। ऐसे में कुल मिलाकर 7 मशीनों का इस्तेमाल करके कोरोना की जांच तेजी से की जा सकेगी। इतना ही नहीं, जीनोम सीक्वेंसिंग पर भी काम लगातार किया जा रहा है। आने वाली तीसरी लहर से निपटने के लिए प्रदेश सरकार पहले से ही स्वास्थ्य व्यव्स्थाओं को और बेहतर करने की बात कह रही है।

दैनिक राशिफल: जानिए सितारों के अनुसार कैसे करें अपने दिन की शुरुआत

Previous article

आज वाराणसी के दौरे पर PM नरेंद्र मोदी, भारत-जापान की दोस्ती के प्रतीक ‘रूद्राक्ष’ करेंगे उद्घाटन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured