kangana नहीं थम रहा दिलजीत और कंगना के बीच का विवाद, अब सिंगर के वैकेशन पर छीड़ी बहस

अभिनेता-गायक दिलजीत दोसांझ ने अपनी वेकेशन फोटोज पर कंगना रनौत के कमेंट पर प्रतिक्रिया दी है. इसकी शुरुआत तब हुई जब दिलजीत ने सोमवार को अपनी वेकेशन की तस्वीरें शेयर की और कंगना ने इन तस्वीरों को लेकर पंजाबी स्टार पर निशाना साधा. नारंगी रंग के ओवरकोट पहने और बर्फ से घिरे दिलजीत ने ये तस्वीरें स्नोफ्लेक इमोजी के साथ शेयर कीं.

देश में चल रहे किसानों के विरोध और प्रदर्शनकारियों को दिलजीत के समर्थन का जिक्र करते हुए कंगना ने ट्वीट किया, वाह भाई!! देश में आग लगा के किसानों को सड़क पे बैठा के स्थानीय क्रांतिकार विदेश में ठंड का मजा ले रहे हैं. वाह! इसे कहते हैं लोकल क्रांति.


बाद में दिलजीत ने ट्विटर पर पंजाबी में एक पोस्ट शेयर की. जिसमें लिखा था कि किसान भोले नहीं हैं, जो तेरे या मेरे कहने से सड़कों पर बैठ जाएं. वैसे तुझे अपने वाले में भलेका ज्यादा है. मैं पंजाब के साथ हूं और रहूंगा. तू भी हटती नहीं सारा दिन मुझे देखती रहती है.


अपने जवाब में कंगना ने हिंदी में लिखा. वक्त बताएगा दोस्त कौन किसानों के हक़ के लिए लड़ा और कौन उनके खिलाफ. सौ झूठ एक सच को नहीं छुपा सकते, और जिसको सच्चे दिल से चाहो वो तुम्हें कभी नफरत नहीं कर सकता, तुझे क्या लगता है तेरे कहने से पंजाब मेरे खिलाफ हो जाएगा? हा हा इतने बड़े बड़े सपने मत देख तेरा दिल टूटेगा.

kangana replies diljit नहीं थम रहा दिलजीत और कंगना के बीच का विवाद, अब सिंगर के वैकेशन पर छीड़ी बहस
दिलजीत ने तुरंत इसका जवाब दिया. लिखा- मुझे समझ नहीं आ रहा है कि किसानों के साथ उसकी क्या समस्या है? महोदया, पूरा पंजाब किसानों के साथ है. आप ट्विटर के अनुसार अपनी जिंदगी जी रहे हैं. कोई आपके बारे में बात भी नहीं कर रहा है. आप अपनी ओर से बात कर रहे हैं, हमने आपसे नहीं पूछा है. यह आपका व्यवसाय है. एक अन्य ट्वीट में उन्होंने आगे कहा कि क्या मुझे उसे अपने पीआर के रूप में नहीं रखना चाहिए? वह मुझे उसके दिमाग से बाहर नहीं निकाल सकती.

diljit on kangana नहीं थम रहा दिलजीत और कंगना के बीच का विवाद, अब सिंगर के वैकेशन पर छीड़ी बहस

कंगना रनौत और दिलजीत दोसांझ के बीच ट्विटर का ये टकराव नया नहीं है. दोनों ने फार्म बिल और आगामी विरोध प्रदर्शनों को लेकर कई मौकों पर सोशल मीडिया पर तीखे शब्दों का आदान-प्रदान किया है. जहां दिलजीत विरोध कर रहे किसानों के पीछे लामबंद हो गए हैं, वहीं कंगना को लगता है कि नए पारित बिल देश के ‘किसान’ के लिए अच्छाई की दुनिया करेंगे.

आइसोलेशन पीरियड पूरा करने के बाद सीएम त्रिवेंद्र रावत ने संभाला कामकाज

Previous article

पीएम मोदी ने किया कोच्चि-मंगलुरु गैस पाइपलाइन का उद्घाटन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.