January 27, 2022 10:04 am
featured यूपी

सांस्कृतिक विकास के पक्षधर थे कल्याण सिंह : डा. कृष्ण गोपाल

सांस्कृतिक विकास के पक्षधर थे कल्याण सिंह

लखनऊ। भाऊराव देवरस सेवा न्यास की ओर से मंगलवार को लखनऊ के गोमतनीगर विस्तार स्थित सीएमएस के सभागार में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा में सामाजिक और सांस्कृतिक संगठनों के अलावा भाजपा व बसपा समेत करीब 25 राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की।
श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह डा. कृष्ण गोपाल ने कहा कि कल्याण सिंह कहते थे कि देश का सांस्कृतिक विकास होना चाहिए। देश की ग्रामीण जनता की समस्याओं से वह भलीभांति परिचित थे। गांव और गरीब के कष्ट को उन्होंने करीब से समझा था। एक किसान अपने जीवन में दो जोड़ी कपड़ा नही बना पाता था। इसलिए उनके उत्थान के लिए उन्होंने अध्यापक की नौकरी छोड़ दी।

संघ के सह सरकार्यवाह ने कहा कि मैं कुछ वर्षों तक वहां जिला प्रचारक था। आरएसएस के साथ जुड़ने के बाद उन्होंने हर क्षेत्र में काम किया। युवा अवस्था में वह जनसंघ में आ गये। वह अच्छे वक्ता थे। वह जब बोलते थे, तो लोग उन्हें ध्यान से सुनते थे। वह धीरे-धीरे लोगों के दिलों पर छः गये। वह प्रवास पर जाते थे तो उनके पास एक जोड़ी कपड़ा रहता था। उनके कार्य करने की शैली भिन्न थी।
डा. कृष्ण गोपाल ने कहा कि एक बार 10 घंटे तक चलने वाली सभा में गांव के लोग आते थे और चंदा देते थे। वह अच्छा गीत भी लिखते थे, जेल में रह कर साथ में जेल में बंद कार्यकर्ताओं के परिवार को पत्र लिखा करते थे।
संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य इन्द्रेश कुमार ने कहा कि हमारे उनसे व्यक्ति गत और संगठनात्मक संबंध थे। वह महामानव थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मैं राज्य सरकार की ओर से कल्याण सिंह को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। कल्याण सिंह जी एक सामान्य परिवार में जन्मे थे । आरएसएस के साथ जुड़ने के बाद उन्होंने हर क्षेत्र में काम किया । आज कल्याण सिंह हमारे बीच नही है, लेकिन फिर भी उनके कामों के लिए आज भी याद किया जा रहा है ।

कुशल प्रशासक थे कल्याण सिंह – रक्षामंत्री
केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ ने कहा कि बाबू कल्याण सिंह कुशल प्रशासक थे। शासन चलाने के लिए जो दृढ़ संकल्प चाहिए वह कल्याण सिंह में था। नेता भाई और सखा तीनों रूपों में मैं उन्हें देखता हूं। राजनीति शासन करने के लिए नहीं समाज बनाने के लिए की जाती है। यह सीख कल्याण सिंह से मिलती है।
राजनाथ सिंह ने कहा कि लम्बे समय तक उनकी स्मृतियां लोगों के स्मृति पटल पर अंकित रहेंगी।
केंद्रीय मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि यूपी की राजनीति में उनका महत्वपूर्ण योगदान था। वह गांव गरीब और किसान की बात करते थे। समाज के लिए उन्होंने अपना जीवन लगाया। उनके कार्य दिग-दिगंत तक हमें प्रेरणा देते रहेंगे।

सच्चे राष्ट्र भक्त और रामभक्त थे कल्याण सिंह
उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कल्याण सिंह सच्चे राष्ट्र भक्त और रामभक्त थे। राजनीति में त्याग का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण उन्होंने प्रस्तुत किया। केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सत्ता प्राप्त करने के लिए 1990 में अयोध्या में गोली चलवाई गई। 1992 में कल्याण सिंह ने कहा कि रामभक्तों पर खरोच नहीं आनी चाहिए सत्ता रहे या जाते।

बसपा की ओर से सतीश मिश्रा ने अर्पित की श्रद्धांजलि
बसपा नेता सतीश चन्द्र मिश्र ने कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उनसे सब परिचित हैं। उनको राजनीति विरासत में नहीं मिली थी उन्होंने अपना स्थान स्वयं बनाया था। पूरे देश में उन्होंने अपना नाम बनाया कल्याण सिंह ने पिछड़ों के लिए एक मिसाल पेश की।वह किसी कार्य को पेंडिंग में नहीं डालते थे। मैं बसपा की तरफ से कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि देता हूं।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कल्याण सिंह बड़े नेता थे। वह कहते थे कि मोदी और योगी के हाथों में देश और प्रदेश सुरक्षित है।

श्रद्धांजलि सभा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्र प्रचारक अनिल सिंह, विश्व हिन्दू परिषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री गजेन्द्र सिंह, संघ के वरिष्ठ प्रचारक रामजी भाई, राष्ट्रधर्म के निदेशक सर्वेश चंद द्विवेदी,विश्व संवाद केन्द्र के अध्यक्ष नरेन्द्र भदौरिया, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, प्रशांत भाटिया, सीएमएस के संस्थापक जगदीश गांधी, भाजपा के प्रदेश महामंत्री अमर पाल मौर्य और प्रदेश मंत्री सुभाष यदुवंश ने कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Related posts

योगी कैबिनेट का विस्तार, कुछ देर में 7 मंत्री लेंगे शपथ

Kalpana Chauhan

कानपुर सड़क हादसाः अब तक 17 लोगों की मौत, CM और PMO ने किया आर्थिक मदद का ऐलान

Shailendra Singh

सुरक्षाबलों ने की आतंकियों के घुसपैठ की कोशिश नाकाम, 3 आतंकियों को मार गिराया

Samar Khan