भारत-नेपाल सेना का संयुक्त सैन्य अभ्यास

पिथौरागढ़। भारत-नेपाल सेना का संयुक्त सैन्य अभ्यास सोमवार के सूरज निकलने की पहली किरण से शुरू हो चुका है। इस सैन्य अभ्यास के दौरान दोनों देशों की सेनाएं एक-दूसरे से नए-नए पैतरें सिखेंगी। बात दें कि भारत नेपाल के 11 वें संयुक्त सैन्य अभ्यास के लिए नेपाली सेना के अधिकारी और जवान सोमवार को ही पिथौरागढ़ पहुंच गए थे। नेपाली सेना के जवानों के स्वागत में संगीत संध्या का आयोजन भी हुआ।

सोमवार देर रात सेना के लिए इस कार्यक्रम के जरिए जवानों में देश भक्ति गीतों की धुनों के जरिए जोश और उत्साह भरा गया। इसके साथ ही रॉक संगीत और जाज की धुनें लोगों ने खूब पसंद की।

दो घंटे से अधिक समय तक चली इस संगीत संध्या में नगर के तमाम लोगों ने भागीदारी की। भारतीय सेना के जवानों ने आकर्षक पाइप बैंड वादन किया। कार्यक्रम में बिग्रेडियर राकेश मनोचा और नेपाल सेना के कर्नल सुधीर सहित तमाम अधिकारी मौजूद थे। नेपा

गौरतलब है कि भारत नेपाल के बीच होने वाला 11 वां सूर्य किरण संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास इस साल भारत में हो रहा है। अभ्यास के दौरान दोनों देशों के जवान पर्वतीय क्षेत्रों में संभावित आतंकवादी हमलों से निपटने का अभ्यास करने के साथ ही अब तक के अपने अनुभवों को साझा करेंगे।

अभ्यास के दौरान आपदा प्रबंधन का अभ्यास भी होगा। बता दें भारत और नेपाल का बड़ा भू-भाग हिमायली क्षेत्र वाला हैं जहां आपदा के वक्त सेना ही बड़ी मददगार के रुप में सामने आती रही। इससे अभ्यास से हासिल होने वाला अनुभव भविष्य में आपदा की चुनौतियों से निपटने में मदद करेगा।