Terrorists in Lucknow: सुरक्षा कारणों के चलते स्थगित हुआ इन अभ्यर्थियों का विरोध प्रदर्शन

लखनऊ: राजधानी में बीते दिन अलकायदा से जुड़े दो आतंकी गिरफ्तार किए गए हैं। इसी के मद्देनज़र लखनऊ में हाई अलर्ट जारी किया गया है। यहां चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिसबल तैनात है। इन सब के बीच जेई परीक्षा से जुड़े अभ्यर्थियों का सोमवार को होने वाला महाधरना स्थगित कर दिया गया है। इसकी सूचना अभ्यर्थियों द्वारा भारतखबर.कॉम को दी गई है।

दरअसल, जेई परीक्षा से जुड़े पूरे प्रदेश के अभ्यर्थियों का आज लखनऊ में जमावड़ा लगने वाला था। हजारों की संख्या में अभ्यर्थी आज यहां पहुंचने वाले थे और उनका विधानसभा का घेराव करने का इरादा था। हालांकि, सुरक्षा कारणों के चलते इस विरोध प्रदर्शन को स्थगित कर दिया गया है।

क्या कहना है अभ्यर्थियों का

जेई परीक्षा से जुड़े अभ्यर्थियों का कहना है, ‘लखनऊ में पकड़े गए आतंकवादी के डर और सभी की सहमति से 12 तारीख को होने वाला विरोध प्रदर्शन स्थगित किया गया है। हम नहीं चाहते कि हमारी वजह से कानून व्यवस्था अस्त-व्यस्त हो। प्रशासन और सरकार की व्यवस्था को हम नुक्सान नहीं पहुंचाना चाहते हैं। हालांकि, परिस्थितियां सामान्य होने के उपरांत हम अपना हक़ मागने जरूर आएंगे।’

अभी तक नहीं हुई परीक्षा

दरअसल, उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा साल 2016 और 2018 में निकाली गई जूनियर इंजीनियर के भर्ती की परीक्षा अभी तक नहीं हुई है। अभ्यर्थियों का कहना है कि आवेदन के नाम पर केवल उन्हें ठगा गया है। अभ्यर्थियों की मांग है कि ये परीक्षाएं जल्द से जल्द कराई जाएं और नतीजे घोषित कर, नियुक्ति दी जाए। अभ्यर्थियों द्वारा प्राप्त जानकारी के मुताबिक, 2018 में लगभग 1654 पदों पर और  2016 में लगभग 454 पदों पर भर्ती के विज्ञापन निकाले गए थे।

जल्द से जल्द पूरी हो भर्ती प्रक्रिया

अभ्यर्थियों की मानें तो इसी साल फ़रवरी में उन्होंने पिकप भवन में प्रदर्शन किया था। अभ्यर्थियों के मुताबिक, हमने आवेदन किया तो नौकरी की उम्मीद बंधी। परीक्षाएं अभी तक नहीं हुई है। अभ्यर्थियों का कहना है कि पढ़ाई करने के बाद जब परीक्षाएं नहीं होंगी तो पढ़ाई का फायदा ही क्या रहेगा।

 

यूपी में मिशन मोड पर भाजपा, 16 जुलाई से शुरु होगा अभियान

Previous article

मुजफ्फरनगरः स्टेटस अपडेट के चक्कर में युवक ने लगाई गंगनहर में छलांग, गंवाई जान

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.