Breaking News दुनिया देश

चीन के ओबीओआर को जवाब देने के लिए जापान भारत के साथ मिलकर बनाएगा रणनीति

aa Cover 0a4b5qe83mnejq3v4mekchhss5 20170704011931.Medi चीन के ओबीओआर को जवाब देने के लिए जापान भारत के साथ मिलकर बनाएगा रणनीति

टोक्यो।  जापान ने चीन को जवाब देने के लिए उसके वन बेल्ट वन रोड की नीती के खिलाफ भारत, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के साथ मिलकर एक रणनीतिक परियोजना बनाने का ऐलान किया है। जापान के विदेश मंत्री तारो कोना ने निक्केई अखबार को दिए एक साक्षतकार में ये बात कही। अखबार के मुताबिक जापान के प्रधानमंत्री शिंजों आबे छह नवंबर को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ मुलाकात कर इस रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं।

aa Cover 0a4b5qe83mnejq3v4mekchhss5 20170704011931.Medi चीन के ओबीओआर को जवाब देने के लिए जापान भारत के साथ मिलकर बनाएगा रणनीति

अगर ये रणनीति लागू हो जाती है तो चारों देश जमीन और समुद्र के रास्ते अपने कारोबार और सुरक्षा के मामलों  में एक दूसरे का सहयोग कर सकते है। अखबार के मुताबिक जापान इन चार देशों से अपनी इस रणनीति को लागू करने के बाद इसका दायरा समूचे विश्व में फैलाना चाहता है। साक्षतकार में कोनो ने कहा कि हम ऐसे युग में हैं, जिसमें जापान एक रणनीतिक मध्यस्ता की भूमिका निभा सकता है। उन्होंने कहा कि इस परियोजना का उद्देश्य एशिया और अफ्रीका में उच्चा स्तरीय आधारभूत ढांचा तैयार करना है, जिससे की पिछड़े इलाकों का विकास हो सके।

 

गौरतलब है कि चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी के महा अधिवेशन में राष्ट्रपति शी जिनपिंग के विशाल बेल्ट और रोड प्रोजेक्ट पर सहमति की मुहर लगी है। चीन की वामपंथी सरकार ने जिस तरह से जिनपिंग में विश्ववास जताया है, उसके चलते चीन आने वाले समय में और ज्यादा आक्रामक रुख अख्तियार करने के लिए कई योजनाओं का शुभारंभ कर सकता है। चीन  अपने वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट में 60 से भी ज्यादा देशों को जोड़ना चाहता है, ताकि वे वहां से कच्चा माल लेकर तैयार माल को वहां बेच सके। वहीं  उत्तर कोरिया मसले पर जापानी विदेश मंत्री ने कहा कि उत्तर कोरिया अगर अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के जरिये निगरानी पर भी राजी होता है तो तनाव को कम करने में काफी मदद मिलेगी।

Related posts

1 फरवरी को ही पेश होगा बजट, राष्ट्रपति ने लगाई मुहर

kumari ashu

सियासत से क्यों दूर रहना चाहते थे राजीव गांधी ? कहानी ‘राजीव’ युग की

mahesh yadav

प्रधानमंत्री समेत केंद्रीय मंत्रिपरिषद ने राष्ट्रपति को सौंपा इस्तीफा, मंत्रालयों के बंटवारे में बड़ीं मुश्किलें

bharatkhabar