December 3, 2022 9:26 pm
featured जम्मू - कश्मीर

जम्मू कश्मीर: हड़ताल पर गए बिजली कर्मचारियों के साथ बातचीत विफल, डिविजन कमिश्नर ने सेना की मांगी मदद

FG 7XcMVUAg3yVw जम्मू कश्मीर: हड़ताल पर गए बिजली कर्मचारियों के साथ बातचीत विफल, डिविजन कमिश्नर ने सेना की मांगी मदद

जम्मू कश्मीर में बिजली के निजीकरण का विरोध कर रहे प्रदेश के 23,000 बिजली कर्मचारी शनिवार से अनिश्चित हड़ताल पर हैं। इस हड़ताल का व्यापक असर शनिवार से ही जम्मू के अधिकतर हिस्सों पर पढ़ा। इस हड़ताल का सबसे ज्यादा असर जम्मू के ग्रामीण इलाकों पर पड़ा।

इसके बाद बिजली कर्मचारियों से प्रशासन की बातचीत विफल होने के बाद आखिरकार जम्मू के डिविजन कमिश्नर ने सेना की मदद मांगी। शहर में बिजली आपूर्ति को सुनिश्चित करने के लिए सेना बुलाई गई।

वहीं, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुला ने इस मुद्दे को लेकर राज्य प्रशासन को विफल करार दिया है। अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा कि जम्मू-कश्मीर के जम्मू संभाग में बिजली के बुनियादी ढांचे को संचालित करने के लिए सेना को बुलाया गया है।

नागरिक प्रशासन के लिए सेना को बुलाने से बड़ी विफलता कुछ नहीं है। इसका मतलब है कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने शासन के पूरी तरह फेल होने को स्वीकार लिया

ये भी पढ़ें :-

उत्तर प्रदेश में कोरोना एक्टिव मामले की संख्या हुई 43, दो दिन में सर्वाधिक केस लखनऊ में मिले

 

Related posts

पाक सेना ने भारत को दी गीदड़ धमकी कहा, हम परमाणु संपन्न देश

mahesh yadav

राजस्थान में गहलोत की सरकार क्या बचा लेंगी वसुंधरा राजे?

Rozy Ali

लखनऊ बालू अड्डा: बढ़ रहे डायरिया के मरीज़, क्षेत्रवासियों का आरोप- पीएचसी…

Shailendra Singh