September 28, 2022 3:45 pm
featured जम्मू - कश्मीर देश

महबूबा मुफ्ती के बिगड़े बोल, तालिबान का उदाहरण देते हुए दी केंद्र को चेतावनी, कहा- बर्दाश्त का बांध टूटा तो आप नहीं रहोगे

mehbooba mufti 7021682 835x547 m महबूबा मुफ्ती के बिगड़े बोल, तालिबान का उदाहरण देते हुए दी केंद्र को चेतावनी, कहा- बर्दाश्त का बांध टूटा तो आप नहीं रहोगे

तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद से ही भारत में भी कई लोग तालिबान का समर्थन करते नजर आ रहे हैं। इसी बीच जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने तालिबान का उदाहरण देकर केंद्र सरकार को चेतावनी दी है।

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के बिगड़े बोल

तालिबानी संगठन अफगानिस्तान की आवाम पर जुल्म ढा रहा है। तालिबान को अफगानिस्तान पर कब्जा किए एक हफ्ता हो गया है। ऐसे में वहां के हालात अभी भी दिन ब दिन बिगड़ रहे हैं। वहीं अब ऐसे क्रूर तालिबान के समर्थन में भारत के कई लोग खड़े हो रहे हैं। साथ ही इसको लेकर राजनीति भी चरम पर पहुंच रही है। इसी बीच जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। अपने बयान में उन्होंने भारत सरकार को तालिबान का उदाहरण देते हुए चेतावनी दी है। महबूबा मुफ्ती के इस बयान के बाद काफी हंगामा शुरू हो चुका है।

‘केंद्र सरकार बातचीत नहीं करती तो बर्बादी होगी’

महबूबा मुफ्ती ने तालिबान का उदाहरण देते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी दी और कहा कि भारत अपने पड़ोसी अफगानिस्तान को देखे। जहां से अमेरिका को अपनी सेना बुलानी पड़ी है। अमेरिका बोरिया-बिस्तर बांधकर वापस जाने को मजबूर हुआ है। केंद्र सरकार को भी जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर बातचीत करनी चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार वाजपेयी के सिद्धांत पर वापस नहीं आती है और बातचीत शुरू नहीं करती है तो बर्बादी होगी।

कश्मीरी कमजोर नहीं हैं- महबूबा मुफ्ती

इतना ही नहीं महबूबा मुफ्ती अपने बयान में यहीं नहीं रुकी। उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि कश्मीरी कमजोर नहीं हैं। वो काफी बहादुर और धैर्यवान हैं। धैर्य रखने के लिए बहुत साहस चाहिए। जिस दिन धैर्य की दीवार टूट जाएगी, तुम परास्त हो जाओगे। उन्होंने यह भी कहा कि अगर आजादी के समय बीजेपी होती तो आज कश्मीर भारत में नहीं होता।

बर्दाश्त का बांध टूटा तो आप नहीं रहोगे- महबूबा

एक कार्यक्रम में बोलते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जिस वक्त यह बर्दाश्त का बांध टूट जाएगा, तब आप नहीं रहोगे, मिट जाओगे। पड़ोसी देश अफगानिस्तान में देखो क्या हो रहा है। उनको भी वहां से बोरिया-बिस्तर लेकर वापस जाना पड़ा। आप के लिए मौका है अभी भी, जिस तरह वाजपेयी जी ने बातचीत शुरू की थी कश्मीर में, बाहर भी और यहां भी, उसी तरह आप भी बातचीत का सिलसिला शुरू करो।

जम्मू-कश्मीर का जो छीना है उसे वापस करो- मुफ्ती

वहीं धारा 370 हटाए जाने को लेकर भी महबूबा मुफ्ती केंद्र सरकार पर हमलावर होती नजर आईं। मुफ्ती ने कहा कि जो आपने गैर कानूनी तरीके से छीना है, गैर संवैधानिक तरीके से जो जम्मू-कश्मीर का नुकसान किया है, टुकड़े-टुकड़े कर दिए, उसे वापस करो नहीं तो बहुत देर हो जाएगी।

Related posts

इलियाना डिक्रूज ने बिकनी में शेयर की फोटोज, हर एक पोज पर फैंस मर मिटने को तैयार…

Shailendra Singh

स्मृति ईरानी ने किया जय शाह का बचाव, ‘पहले भी कांग्रेस ने किया है प्रताड़ित’

Pradeep sharma

बसंत पंचमी के साथ ब्रज में होली का आगाज, बांके बिहारी मंदिर में बरसा अबीर-गुलाल

Rahul