molana 1 कोरोना के बीच घरों में रहकर रखें रमजान और घरों में ही पढ़ें नमाज-मौलाना अरशद मदनी..

महामारी कोरोना के बीच रमजान का पाक महीना शुरू होने जा रहा है। आज चांद दिखते ही भारतीय मुस्लिम समुदाय के लोग तीस दिनों तक रोजा रखेंगे। मुस्लिम धर्म में इस पाक महीने का विशेष महत्व है।

molana 2 कोरोना के बीच घरों में रहकर रखें रमजान और घरों में ही पढ़ें नमाज-मौलाना अरशद मदनी..
कोरोना के कहर को देखते हुए देश के प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद के प्रमुख मौलाना अरशद मदनी ने वीडियो जारी करके मुस्लिमों से विशेष अपील की है। उन्होंने कहा कि, मुस्लिम रमजान के पवित्र महीने में लॉकडाउन और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए अपने घर पर ही इफ्तार एवं इबादत करें। कोरोना महामारी से बचाव के लिए सभी स्वास्थ्य निर्देशों का पालन करते हुए रमजान के इस पाक दिनों में राष्ट्र की खुशहाली और स्वस्थ राष्ट्र की दुआ करें।

https://www.bharatkhabar.com/8-missionaries-who-met-the-jamun-wali-mosque-of-nagina-bijnor-had-come-to-participate-in-the-religious-procession/
मौलाना मदनी ने अपील की कि रमजान के मौके पर तराबी (विशेष नमाज) अपने घरों में ही पढ़ें और मस्जिदों में इमाम सहित केवल चार लोग ही दूरी बनाकर पांचों वक़्त की नमाज पढ़ें और बाकी तमाम लोग घरों में रहकर नमाज पढ़ें और इस महामारी से बचाव के लिये दुआ करें।
आपको बता दें देश में तीन मई तक कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन लगा हुआ है। इसी बीच रमजान शुरू होने से पहले ही सभी मुस्लिम धर्मगुरु मुस्लिम समाज के बीच कोरोना से जुड़ी हुई जानकारी पहुंचाकर सरकार के नियमों के पालनों और सोशल डिस्टेंस बनाने की अपील कर रहे हैं।

उत्तराखंड में 6 महीने तक अधिकारियों का एक दिन का वेतन सहयोग राशि के रूप में मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया जाएगा: मनीषा पंवार

Previous article

अक्षय तृतीया पर ठाकुर बांकेबिहारी के चरणों के दर्शन क्यों किए जाते हैं?, जानिए क्या है इसके पीछे का इतिहास..

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured