featured यूपी

Pratapgarh: अंतरराज्यीय गांजा तस्करों का भंडाफोड़, एक करोड़ का गांजा बरामद, 6 गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

अंतरराज्यीय गांजा तस्करों का भंडाफोड़, एक करोड़ का गांजा बरामद, 6 गिरफ्तार

प्रतापगढ़: प्रतापगढ़ में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने छह अभियुक्तों के साथ सात कुंतल गांजा बरामद किया है। गांजे की कीमत करीब एक करोड़ रुपए बताई जा रही है।

ये गांजा ट्रक में लादकर ले जाया जा रहा था। वहीं पुलिस अधीक्षक ने गांजा पकड़ने वाली पुलिस टीम को 25 हजार रुपए का इनाम दिया है।

आंध्र प्रदेश से आ रहा था गांजा

बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि आंध्र प्रदेश से तस्करी करके प्रतापगढ़ गांजा लाया जा रहा है। इसके बाद पुलिस ने कोहडौर इलाके में सड़क पर नाकेबंदी की तो पुलिस को एक ट्रक पर संदेह हुआ जिसके आधार पर उसकी तलाशी ली गई तो उसमें से बड़ी मात्रा में गांजा बरामद हुई। ये गांजा कंप्यूटर पार्ट के साथ लादकर लाया जा रहा था।

इनोवा कार भी जब्त

पुलिस ने मौके से सात किलो गांजा बरामद किया है और ट्रक और इनोवा में चल रहे छह गांजा तस्करों को गिरफ्ताकर कर लिया है। वहीं दो फरार अभियुक्तों को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने ट्रक के साथ चल रही एक इनोवा कार को भी जब्त कर लिया है।

अपर मुख्य सचिव गृह देंगे एक लाख 

पुलिस टीम की कार्यशैली से खुश होकर जहां प्रतापगढ़ पुलिस अधीक्षक ने उन्हें 25 हजार रुपए देने की घोषणा की है वहीं अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्था ने उन्हें एक लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

गौरतलब है कि ये गांजा तस्कर काफी दिनों से तस्करी कर रहे थे। गांजे तस्करी का ये अंतरराज्यीय गिरोह है। गांजा तस्करों को पकड़ने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है।

चोरी-छिपे होती है तस्करी

बता दें कि यूपी में गांजा तस्करी का काम काफी जोरों पर चल रहा है। आए दिन गांजा तस्कर पुलिस के हत्थे चढ़ जाते हैं। बाजार में गांजे की ज्यादा कीमत होने के कारण इसकी तस्करी की जाती है। दरअसल गांजे की खेती पर सरकार ने रोक लगवा रखी है। इसलिए चोरी-छिपे इस काम को अंजाम दिया जाता है।

 

 

Related posts

कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज के दिन लड़-भिड़ कर लगवाई पहली खुराक

Shailendra Singh

फतेहपुर में एडीजी प्रेम प्रकाश की बैठक, अपराधियों के खिलाफ दिए ये निर्देश

Shailendra Singh

फतेहपुर में एम्बुलेंस कर्मियों ने किया चक्का जाम

Shailendra Singh