January 18, 2022 3:13 am
featured दुनिया साइन्स-टेक्नोलॉजी

अगर ये 100 ज्वालामुखी फटे तो दुनिया भर में आएगा समुद्री ‘प्रलय’, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

pic अगर ये 100 ज्वालामुखी फटे तो दुनिया भर में आएगा समुद्री ‘प्रलय’, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

धरती के सबसे दक्षिण में स्थित अंटारकटिका महाद्वीप 100 से ज्यादा ज्वालामुखी का घर है। ये ज्वालामुखी बर्फ की मोटी परत के नीचे छिपे हुए हैं।

वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि इन ज्वालामुखी में विस्फोट हो सकता है। जिससे दुनियाभर के समुद्र में जलस्तर बढ़ सकता है। यह चेतावनी ऐसे समय पर आई है। जब हाल ही में वैज्ञानिकों ने धरती के सबसे बड़े ज्वालामुखी क्षेत्रका खुलासा किया है।

यह भी पढ़े

विधानसभा घेराव करने जा रहे थे शिक्षक भर्ती, प्रदर्शनकारियों को पुलिस ले गई इको गार्डन पार्क

 

अंटारकटिका में 100 से ज्यादा ज्वालामुखी

वैज्ञानिकों के मुताबिक अंटारकटिका महाद्वीप के पश्चिमी तरफ बर्फ की मोटी चादर के दो किमी नीचे ये ज्वालामुखी मौजूद हैं। इनमें से एक ज्वालामुखी तो करीब 4 हजार मीटर ऊंचा है। ब्रिटेन के एडिन बर्गयूनिवर्सिटी के एक दल ने साल 2017 में इन ज्वालामुखी की खोज की थी। अब इस दल ने दावा किया है कि यह अंटारकटिका का पूरा इलाका पूर्वी अफ्रीका के ज्वालामुखी क्षेत्र को भी पीछे छोड ़सकता है।

pic अगर ये 100 ज्वालामुखी फटे तो दुनिया भर में आएगा समुद्री ‘प्रलय’, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी
अंटारकटिका पर केवल दो सक्रिय ज्वालामुखी

पूर्वी अफ्रीका के ज्वालामुखी क्षेत्र को दुनिया में ज्वालामुखी का सबसे घना क्षेत्र माना जाता है। वर्तमान समय में केवल दो सक्रिय ज्वालामुखी अंटारकटिका पर हैं। इनका नाम माउंट इरेबस और डिसेप्शन आइलैंड। ये अपनी भूगर्भीयबनावट के आधार पर बहुत खास हैं और दुनिया के अन्य ज्वालामुखी से पूरी तरह से अलग हैं। अंटारकटिका पर शोध करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि इन ज्वालामुखी के जल्द फटने का खतरा बहुत कम है।

GettyImages 491821494 अगर ये 100 ज्वालामुखी फटे तो दुनिया भर में आएगा समुद्री ‘प्रलय’, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

क्या दुनिया भर में आ जाएगा समुद्री प्रलय !

हालांकि कई ऐसे भी हैं जो यह कह रहे हैं कि अगर ये ज्वालामुखी फटते हैं तो दुनिया भर में समुद्री प्रलय आ जाएगा। यूनिवर्सिटी ऑफ लिसेस्टर में ज्वालामुखी के विशेषज्ञ प्रफेसर जॉन स्मेली ने कुछ समय पहले कहा था कि कभी भी ये ज्वालामुखी काफी ज्यादा पानी पिघला सकते हैं। यह पानी धीरे-धीरे पिघलेगा और फिर वह समुद्र में मिल जाएगा । जिससे जलस्तर बहुत बढ़ जाएगा।

समुद्र का जलस्तर बढ़ेगा 60 मीटर

बता दें कि धरती का 80 फीसदी ताजा पानी अंटारकटिका पर है। अगर यह पिघल जाए तो समुद्र का जलस्तर विश्वभर में 60 मीटर तक बढ़ जाएगा।

pic 1 अगर ये 100 ज्वालामुखी फटे तो दुनिया भर में आएगा समुद्री ‘प्रलय’, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

वैज्ञानिकों के मुताबिक इससे हमारी धरती इंसानों के रहने लायक नहीं रह जाएगी। वैज्ञानिकों का कहना है कि ज्वालामुखी में विस्फोट इस पूरी प्रक्रिया को गति दे सकता है।

Related posts

विजय बहुगुणा को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मिली जगह

bharatkhabar

खांदेरी सबमरीन इंडियन नेवी में शामिल…जानें क्या है इसकी खासियत

shipra saxena

नई कैबिनेट के विस्तार में नितीश की सियासी चाल

bharatkhabar